पाकिस्तान में इंडियन डिप्लोमैट का फोन किया गया जब्त, भारत ने जताई आपत्ति

इस्लामाबाद

एक बार फिर उकसाने वाली कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान ने भारत के एक राजनयिक का फोन जब्त कर लिया. यह राजनयिक इस्लामाबाद में भारतीय महिला उज्मा के साथ जबरन शादी और मारपीट के मामले की सुनवाई के लिए वहां की अदालत पहुंचे थे.

बताया जा रहा है कि इसी दौरान वहां मौजूद अधिकारियों ने उनका फोन जब्त कर लिया. भारतीय उच्चायोग ने इस बर्ताव को पूरी तरह गलत और अपमानजनक बताते हुए राजनयिक का फोन लौटाने को कहा है.

जानकारी के अनुसार, अदालत में उज्मा के केस की सुनवाई चल रही थी. इसी दौरान भारतीय राजनयिक वहां पहुंचे. वहां मौजूद पाकिस्तान के अधिकारियों ने यह कहते हुए उनका फोन जब्त कर लिया कि वह जज की फोटो खींचने की कोशिश कर रहे थे. भारतीय उच्चायोग ने इस दावे को खारिज करते हुए इसका विरोध किया है.

उज्मा दिल्ली की रहने वाली है जिसकी मुलाकात ताहिर अली नाम के पाकिस्तानी नागरिक से मलयेशिया में हुई थी. बताया जाता है कि उज्मा 1 मई को वाघा-अटारी सीमा से पाकिस्तान गई और दोनों ने 3 मई को वहां निकाह कर लिया. कुछ ही दिन बाद उज्मा ने ताहिर पर बंदूक की नोक पर जबरन उससे शादी करने और यौन शोषण का आरोप लगाते हुए भारतीय उच्चायोग से मदद मांगी.

उधर, ताहिर का दावा है कि यह शादी बिना किसी दबाव के हुई है और उसके पास इसके पक्के सबूत हैं. उज्मा फिलहाल भारतीय उच्चायोग की शरण में है. इसी मामले की सुनवाई इस्लामाबाद की अदालत में चल रही है जिसके लिए भारतीय राजनयिक वहां पहुंचे थे.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment