AAP कार्यकर्ताओं से मेरी जान को खतरा, सरकार सुरक्षा मुहैया कराए: हरिंदर सिंह खालसा

चंडीगढ़

दिल्ली में बागी कपिल मिश्रा के आरोपों से जूझ रही आम आदमी पार्टी के लिए पंजाब में भी मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं. आप से निलंबित सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने आप कार्यकर्ताओं से खुद की जान को खतरा बताते हुए सरकार से सुरक्षा की गुहार लगाई है.

फतेहगढ़ साहिब से सांसद हरिंदर सिंह खालसा ने कहा है कि केजरीवाल के पंजाब दौरे का विरोध करने के बाद से उन्हें लगातार धमकियां मिल रही हैं. धमकियां कहीं और से नहीं बल्कि खुद पार्टी के लोग दे रहे हैं. इसलिए मैं पंजाब सरकार से मांग कर रहा हूं कि मुझे सुरक्षा मुहैया कराई जाए.

इधर, गुरप्रीत सिंह वड़ैच के इस्तीफे के बाद आप नेताओं ने डैमेज कंट्रोल की कोशिश शुरू की है. सुखपाल सिंह खैरा ने आप को एकजुट बताया और एच एस फूलका ने गुरप्रीत को मनाने की कोशिश शुरू करने की बात भी कही.

भगवंत मान को संयोजक पद देने के बाद चीफ व्हीप और प्रवक्ता पद से इस्तीफा देने वाले सुखपाल सिंह खैरा ने सामने आकर बयान दिया कि पार्टी में सब कुछ सही चल रहा है और किसी तरह का कोई मतभेद नहीं है.

हालांकि, एकजुटता की बात करने वाले सुखपाल सिंह खैरा ये भी नहीं बता रहे कि उन्होंने अपना पद क्यों छोड़ा. इधर गुरप्रीत सिंह वड़ैच के इस्तीफे के फैसले पर आप विधायकों ने दुख जाहिर किया है. एच एस फूलका ने कहा कि गुरप्रीत को मनाने वो खुद जाएंगे. उन्होंने कहा कि गुरप्रीत का फैसला गलत है लेकिन पार्टी उनका सम्मान करती है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment