सहारनपुर में फिर भड़की हिंसा: दंगाइयों ने पुलिस पर की फायरिंग, कई वाहनों को लगाई आग

सहारनपुर

उत्तर प्रदेश को उत्तराखंड और हरियाणा से जोडऩे वाले सहारनपुर में माहौल शांत होने का नाम नहीं ले रहा है. यहां शब्बीरपुर हिंसा को लेकर धरना दे रहे भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं को उठाने के विरोध में शहर में बवाल हो गया.

इस बवाल के बाद कार्यकर्ताओं ने पुलिस के साथ गाली-गलौच के साथ पथराव, फायरिंग और आगजनी की. आज इन कार्यकर्ताओं ने पुलिस को भी दौड़ लिया. आज कई स्थानों पर पुलिस व दलित आमने-सामने रहे.

हिंसा को लेकर धरना दे रहे भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं को उठाने के विरोध में शहर और रामपुर मनिहारन क्षेत्र में जमकर हंगामा हुआ. उपद्रवियों ने पुलिस के साथ गाली-गलौच पथराव, फायरिंग, तोडफ़ोड़ व आगजनी की. रामपुर मनिहारन सीओ की जीप तोड़ दी. रामनगर पुलिस चौकी में आग लगा दी. एक-एक बस और कार समेत डेढ़ दर्जन दो पहिया वाहनों में आग लगा दी.

एडीएम, एसडीएम, नगर मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों को कालोनी में घुसकर जान बचानी पड़ी. इस घटना में एक सिपाही समेत एक दर्जन लोग घायल हो गए. कई स्थानों पर पुलिस और दलित आमने-सामने हो गए. एडीएम से भी मारपीट की गई.

गौरतलब है कि गांधी पार्क में भीम आर्मी सेना के बैनर तले दलित एकत्र हुए. शब्बीरपुर के पीडि़तों को मुआवजा दिलाने की मांग को लेकर धरना शुरू कर दिया, इसी बीच पुलिस पहुंची और बिना अनुमति के धरना देने पर वहां से आन्दोलनकारियों को उठाने का प्रयास किया. इसी बीच आन्दोलनकारियों और पुलिस के बीच गाली-गलौच और पथराव की घटनाएं हुई.

इसके बाद यह आन्दोलनकारी आगे-आगे और पुलिस उनके पीछे-पीछे दौड़ती रही. कभी घंटाघर तो कभी गोविन्द्र नगर तो कही चिलकाना रोड पर इन कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव किया. चिलकाना रोड पर एक कूड़े के ढ़ेर में आग लगाने के बाद आन्दोलनकारी हाथों में तंमचे लेकर पुलिस के सामने आ गए और फायरिंग शुरू कर दी. इस दौरान अपनी जान बचाने के लिए पुलिसकर्मी वहां से भाग खड़े हुए. दलितों ने चिलकाना रोड पर जाम लगा दिया है.

Share With:
Rate This Article