बिलकिस बानो गैंगरेप केस में 12 को उम्रकैद की सजा

बंबई उच्च न्यायालय ने गुजरात में गोधरा कांड के बाद हुये बहुचर्चित बिलकिस बानो सामूहिक बलात्कार मामले में 12 लोगों की दोषसिद्धि और उम्रकैद की सजा आज बरकरार रखी और पुलिसकर्मियों एवं डॉक्टरों समेत सात लोगों को बरी करने का आदेश निरस्त कर दिया.

अदालत ने सीबीआई की उस अपील को भी खारिज कर दिया, जिसमें तीन दोषियों के लिये मौत की सजा की मांग की गई थी. मार्च 2002 में गर्भवती बिलकिस के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था.  उसने कहा कि एक महिला और एक मां के तौर पर उसके अधिकारों का बेहद बर्बर तरीके से उल्लंघन हुआ और इस फैसले ने ‘‘सच्चाई की पुष्टि” की और न्यायपालिका में उसके भरोसे को ‘‘बरकरार” रखा.

गोधरा में ट्रेन जलाये जाने की घटना के बाद भडकी हिंसा में उसके परिवार के सात सदस्य भी मारे गये थे.

Share With:
Rate This Article