भारत ने PAK उच्चायुक्त किया तलब, कहा- आपके सैनिकों के खिलाफ हमारे पास पुख्ता सबूत

दिल्ली

जम्मू-कश्मीर में दो भारतीय जवानों के शवों से बर्बरता किए जाने के मुद्दे पर भारत ने बुधवार को पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब किया. विदेश मंत्रालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार, विदेश सचिव एस जयशंकर ने बासित को तलब किया और इस घटना पर भारत की नाराजगी से अवगत कराया.

भारत की ओर से कहा गया कि रोज़ा नाला तक ख़ून के निशान दिखते हैं. यह साफ सबूत है कि हत्यारे इस पार आए और लौटे. बट्टल चौकी से पाकिस्तानी सेना ने फायरिंग की. यह फायरिंग हमले को कवर देने के लिए की गई. इस घृणित कृत्य के लिए जिम्मेदार सैनिकों और कमांडरों पर कार्रवाई हो.

भारत ने पाकिस्तान से कहा, जवानों के शवों से बर्बरता पर देशभर में गुस्सा है. भारत के पास इस बात के पुख्ता सबूत हैं कि पाकिस्तान सेना ने नियंत्रण रेखा को पार करके इस काम को अंजाम दिया. ये पाकिस्तान की उकसाने वाली कार्रवाई है.

भारत के महानिदेशक सैन्य आपरेशन (डीजीएमओ) लेफ्टिनेंट जनरल ए के भट ने अपने पाकिस्तानी समकक्ष को भी बताया है कि ऐसे घृणित और अमानवीय कार्य सभ्यता के मानकों से परे हैं और इसकी कड़े शब्दों में निंदा की जानी चाहिए.

उल्लेखनीय है कि 1 मई को पाकिस्तान की बार्डर एक्शन टीम ने जम्मू कश्मीर के पुंछ क्षेत्र में 250 मीटर भीतर घुस कर नायब सुबेदार परमजीत सिंह और बीएसएफ के हेड कांस्टेबल प्रेम सागर की हत्या कर दी थी और उनके शवों को क्षत-विक्षत कर दिया था.

Share With:
Rate This Article