इंडियन रेलवे में घोटाला, 972 रुपए में 100 ग्राम दही !

ट्रेनों की लेटलतीफी और भोजन की खराब क्वॉलिटी को लेकर अकसर आलोचना का शिकार बनने वाला इंडियन रेलवे अब महंगा सामान खरीदने को लेकर विवादों के घेरे में है। एक आरटीआई के जवाब में रेलवे ने खरीदे जाने वाले सामान की जो कीमत बताई है, वह हैरतअंगेज कर देने वाली है। मसलन, 100 ग्राम दही खरीदने की दर 972 रुपये बताई गई लेकिन जब इस खुलासे पर हंगामा मचा तो इंडियन रेलवे का सेंट्रल जोन बैकफुट पर आ गया। अब उसका तर्क है कि टाइपिंग की गलती से यह गड़बड़ी हुई है, लेकिन आरटीआई के जवाब में इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हुई, इसे लेकर रेलवे ने फिलहाल चुप्पी साध रखी है।

दरअसल, अजय बोस ने पिछले साल आरटीआई के जरिए रेलवे से कुछ जानकारियां मांगी थीं। रेलवे की ओर से जवाब तो दिया गया लेकिन वो हैरान कर देने वाला था। जवाब में बताया गया कि सेंट्रल रेलवे का कैटरिंग डिपार्टमेंट सौ ग्राम दही 972 रुपये और एक लीटर रिफाइंड तेल 1241 रुपये में खरीदता है। यह सामान वहां की ट्रेनों और बेस किचन के लिए सप्लाई किया जाता है। रेलवे की ओर से आरटीआई के जवाब में दी गई जानकारी के अनुसार खरीदे गए सामान की दरें इस तरह बताई गईं। 58 लीटर रिफाइंड तेल – 72,034 रुपये (1241 रुपये प्रति लीटर), टाटा नमक के 150 पैकेट – 2670 रुपये (49 रुपये प्रति पैकेट), पानी की बोतल और कोल्ड ड्रिंक – 59 रुपये प्रति बोतल।

Share With:
Rate This Article