योगी कैबिनेट का फैसला, अब हर साल 24 जनवरी को मनाया जाएगा यूपी स्थापना दिवस

लखनऊ

देश के अधिकांश राज्यों की तरह ही अब उत्तर प्रदेश भी अपना स्थापना दिवस मनाएगा. कैबिनेट में मंगलवार को इस प्रस्ताव पर मुहर लग गई. उत्तर प्रदेश में हर वर्ष 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाया जाएगा. योगी सरकार की पांचवीं कैबिनेट में 6 फैसले को मंजूरी मिली है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आज कैबिनेट बैठक के बाद सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार 24 जनवरी को उत्तर प्रदेश दिवस मनाएगी. किसी भी राज्य के स्वाभिमान के लिए उसकी पहचान जरुरी है. इसके साथ ही किसी भी राज्य के लिए पहचान जरुरी है. उत्तर प्रदेश का गठन 24 जनवरी को हुआ था. इसी कारण आज कैबिनेट में फैसला लिया गया कि अब उत्तर प्रदेश दिवस मनाया जाएगा.

सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि इसी के साथ प्रदेश में एक जुलाई से जीएसटी लागू किया जाएगा. आज इस प्रस्ताव पर भी कैबिनेट की मुहर लग गई. प्रदेश सरकार की तबादला नीति 2017-18 को भी आज हरी झंडी मिल गई है. इस नीति के तहत 30 जून तक हो सकेंगे तबादले. लम्बे समय से जमे अफसरों को हटाया जायेगा. सभी श्रेणी के अधिकारियों और कर्मचारियों पर तबादला नीति लागू होगी.

आज कैबिनेट बैठक में डिस्ट्रिक्ट मिनरल बोर्ड की नियमावली को मंजूरी मिली है. निर्णय लिया गया कि तीन महीने के अन्दर नई नीति लागू करना अनिवार्य होगा. खनिज सम्पदा बहुल इलाकों के विकास के लिए मॉडल बनेगा. डिस्ट्रिक्ट मिनरल बोर्ड की नियमावली को मिली मंजूरी. पुराने पट्टा धारकों को डिस्ट्रिक्ट मिनरल फण्ड में 30 प्रतिशत जमा करने होंगे, सांस्कृतिक जगहों के विकास का ध्यान रखा जायेगा.

यूपी इलेक्ट्रोनिक्स नोडल एजेंसी बनायीं गई. खनिज का खनन करने वालों को अतिरिक्त टैक्स देने होंगे. जिले में वेल्फेयर के लिए अतिरिक्त टैक्स चुकाने होंगे. पूर्वांचल में रोजगार के अवसर पैदा किये जायेंगे. यूपी कैबिनेट की बैठक में सभी विभागों को यह निर्देश दिया गया है. प्रदेश के सभी विभागों के ठेके ई-टेंडरिंग के जरिये होंगे. कैबिनेट में फैसला लिया गया.

Share With:
Rate This Article