J&K: फिर से दिखा ना’पाक’ चेहरा, 2 भारतीय जवानों के शव को किया क्षत-विक्षत

जम्मू

पाकिस्तान ने जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले के नियंत्रण रेखा पर सीज फायर का उल्लंघन किया. पाकिस्तानी रेंजर्स ने बीएसएफ की अग्रिम रक्षा स्थान (एफडीएल) चौकी पर आज रॉकेट दागे, जिसमें सेना के एक जेओसी और बीएसएफ के हेड कांस्टेबल शहीद हो गए. इसके अलावा एक और जवान घायल है. वहीं, पाकिस्तान सेना ने भारतीय जवानों के शव के साथ बर्बरता भी की और उनके अंग काट डाले हैं.

सेना के उत्तरी कमांड द्वारा जारी प्रेस रिलीज में कहा गया है कि पाक सेना ने कृष्णा घाटी सेक्टर में भारतीय पोस्टों की तरफ मोर्टार से फायरिंग की. पाकिस्तानी सेना ने इस दौरान दो भारतीय जवानों के शवों को क्षत-विक्षत कर दिया. बयान में कहा गया है कि पाकिस्तान सेना की इस घृणित कार्रवाई का उचित जवाब दिया जाएगा.

बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, सुबह साढ़े आठ बजे पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर बीएसएफ चौकी पर पाकिस्तानी (सेना) चौकी की ओर से रॉकेट और स्वचालित हथियारों से भारी गोलीबारी की गई. हमले में एक हेड कांस्टेबल और जेसीओ गंभीर रूप से जख्मी हो गए. हालांकि बाद में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. अधिकारी ने कहा कि सीमा की सुरक्षा करने वाले जवानों ने प्रभावी तौर पर जवाब दिया.

पाकिस्तानी सेना ने पुंछ और राजौरी सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर पिछले महीने सात बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था. उन्होंने 19 अप्रैल को पुंछ सेक्टर में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया था और 17 अप्रैल को नौशेरा में अग्रिम चौकी पर मोर्टार दागे थे.

पाकिस्तान ने इसी सेक्टर में आठ अप्रैल को, पांच अप्रैल को पुंछ जिले में, चार अप्रैल को भीमभर गली सेक्टर में और तीन अप्रैल को बालाकोटे और (दिगवार) पूंछ सेक्टरों में दो स्थानों पर गोलीबारी की थी.

Share With:
Rate This Article