मोगा में पराली जलाने को लेकर प्रशासन सख्त, काटे जा रहे हैं किसानों के चालान

मोगा

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेशों पर मोगा में प्रशासन सख्त नजर आ रहा है. गेहूं की पराली जलाने पर प्रशासन ने सख्ती दिखाई है. एडीसी अजय कुमार सूद ने बताया कि गेहूं की पराली जलाने वालों पर पूरी सख्ती होगी.

इसी के तहत बाघापुराना के गांव कालेके में पराली जलाने के आरोप में 2500 रुपए का चालान काटा गया है. उन्होंने कहा कि पराली जलाने से जहां वारावरण प्रदूषित होता है, वहीं जमीन की उपजाऊ शक्ति भी कम होती है.

Share With:
Rate This Article