पंचतत्व में विलीन हुए विनोद खन्ना, छोटे बेटे साक्षी खन्ना ने दी मुखाग्नि

मुंबई

पहले अभिनेता फिर संन्यासी और इसके बाद नेता, असल जिंदगी में तीन किरदार निभाने वाले विनोद खन्ना हमारे बीच नहीं रहे. आज मुंबई के अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली.

आज उनके अंतिम विदाई में शामिल होने अमिताभ बच्चन, ऋषि कपूर, जैकी श्राफ, कबीर बेदी, सुभाष घई पहुंचे. विनोद खन्ना के बेटे अक्षय खन्ना भी पहुंचे. सुभाष घई ने कहा कि स्टार से उपर थे विनोद खन्ना. विनोद खन्ना को उनके सबसे छोटे बेटे साक्षी खन्ना ने मुखाग्नि दी.

अपने जमाने के दिग्गज फिल्म अभिनेता और सांसद विनोद खन्ना का आज सुबह एक अस्पताल में कैंसर से निधन हो गया. वह 70 साल के थे. विनोद खन्ना के भाई प्रमोद खन्ना ने बताया, ‘‘उनका निधन सुबह 11:20 बजे हो गया. यह हमारे लिए दुख की घड़ी है. हम आप सभी से अनुरोध करते हैं कि हमारी निजता का ध्यान रखें.’’ विनोद को शरीर में पानी की कमी के चलते 31 मार्च को सर एच एन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था.

अस्पताल के एक आधिकारिक बयान के अनुसार अभिनेता ब्लैडर कैंसर से पीड़ित थे. उनके परिवार में पत्नी कविता खन्ना और चार संतानें राहुल, अक्षय, साक्षी और श्रद्धा हैं. विनोद खन्ना के दो बेटे राहुल और अक्षय भी अभिनेता हैं और वे उनकी पहली पत्नी गीतांजलि के पुत्र हैं.

Share With:
Rate This Article