इमान के स्वास्थ्य में सुधार से बहन का इंकार, कहा- हमें मूर्ख बना रहे डॉक्टर

मुंबई

दुनिया की सबसे भारी महिला इमान अहमद की बहन ने डॉक्टर और अस्पताल पर धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है. उसने इमान का वजन 250 किलो कम होने के दावे को झूठा बताया है और कहा है कि डॉक्टर हमें मूर्ख बना रहे हैं. साथ ही कहा कि सात मार्च को बैरियाट्रिक सर्जरी होने के बाद से इमान की हालत और खराब हो गई है.

गौरतलब है कि इमान को मोटापे का इलाज के लिए मिस्र से विशेष विमान से यहां सैफी अस्पताल लाया गया था. वह अगले एक सप्ताह में वापस जाने वाली है.

इमान के साथ आई उसकी बहन शाइमा ने कहा कि सर्जरी के बाद उसे हर दूसरे दिन दौरे पड़ने लगे हैं. जबकि भारत आने से पहले उसे अंतिम बार तीन साल पहले दौरे पड़े थे जिससे उसे लकवा मार गया था. अब वह थकी-थकी रहती है. वह न तो ज्यादा कुछ बोलती है और न ही ज्यादा हिलती-डुलती है.

डॉक्टर का कहना है कि उसका दिमाग प्रभावित हो गया है लेकिन मुंबई में ऐसा सीटी स्कैन मशीन नहीं जो 250 किलो वजन वाले की जांच कर सके. शाइमा ने कहा कि अस्पताल में वजन मापने की मशीन नहीं है. कभी इमान का वजन नहीं लिया गया. 250 किलो कम होने का दावा झूठा है. उसका वजन महज 60 किलो कम हुआ है. शाइमा ने अस्पताल पर सुविधाएं नहीं देने का आरोप लगाया.

इमान का इलाज करने वाले बैरियाट्रिक सर्जन डॉ. मुफ्फजल लाकड़ावाला ने कहा कि मोटापे की बीमारी का इलाज करने का वादा उन्होंने पूरा किया है, लेकिन अब उसे न्यूरोलॉजिकल समस्या हो गई है जिसका इलाज हम नहीं कर सकते. हम उसका वजन 50 किलो और कम करने का प्रयास कर रहे हैं ताकि उसका सीटी स्कैन कराया जा सके.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment