सुकमा हमला: शहीद CRPF जवान संजय और सुरेंद्र पर देश को नाज, हिमाचल की आंखें नम

छत्तीसगढ़ के सुकमा में हुए नक्सली हमले में हिमाचल के मंडी जिले के नेरचौक निवासी सुरेंद्र कुमार (33) भी शहीद हुए हैं। सीआरपीएफ 74 बटालियन में तैनात सुरेंद्र डेढ़ माह की छुट्टी काटकर दस अप्रैल को ही लौटे थे।

सुरेंद्र कुमार अपने पीछे पत्नी किरण, दो साल की बेटी एलीना और माता विमला ठाकुर को पीछे छोड़ गए हैं। सूचना मिलते ही क्षेत्र में शोक की लहर छा गई है। वर्ष 2003 में भर्ती हुए सुरेंद्र कुमार कुछ माह पहले मौत को मात दे चुके थे।

सोमवार को जैसे ही सुकमा में नक्सली हमले की टीवी पर खबरें आने लगीं तो चचेरे भाई राजकुमार ने सुरेंद्र के मोबाइल पर कॉल की। फोन उसके साथी जवान ने उठाया। उसने सुरेंद्र के शहीद होने की बात कही। राजकुमार ने परिजनों को सूचना दी।

सुकमा में शहीद हुए जवानों का फोटो

उधर, सीआरपीएफ जवान संजय कुमार की शहादत की खबर से भी परिवार सकते में है। पूरे हिमाचल और देश को दोनों बेटों पर गर्व है।

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment