जानिए कैसे बढ़ सकती हैं राणा गुरजीत सिंह की मुश्किलें, किसने की पद से हटाने की मांग

चंडीगढ़

आम आदमी पार्टी के आरोपों के बाद अब पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के वरिष्ठ वकील एचसी अरोड़ा ने पंजाब के बिजली मंत्री राणा गुरजीत सिंह को पद से हटाने की मांग की है.

अरोड़ा ने प्रदेश के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर कहा है मुख्यमंत्री को मामले में संज्ञान लेकर बिजली मंत्री को दस दिन के अंदर पद से हटाया जाना चाहिए, नहीं तो अरोड़ा इस मामले को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे.

राणा गुरजीत सिंह के नाम भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि राणा गुरजीत सिंह स्वंय राणा ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के सह-संस्थापक हैं. इस कंपनी को राणा गुरजीत सिंह के परिवार की ओर से चलाया जा रहा है, जिसमें राणा गुरजीत और उनकी पत्नी के करोड़ों रुपये के शेयर भी हैं.

हाईकोर्ट के वकील ने कहा कि राणा शुगर्स लिमिटेड कंपनी बिजली भी बनाती है और उसे पीएसपीसीएल को बेचती है. ऐसे में सीधे तौर पर ये हितों के टकराव का मामला बनता है.

Share With:
Rate This Article