हिमाचल: पर्यटकों को अब रेंट पर मिलेंगी बाइक्स, चलेंगी इलेक्ट्रिक बस

हिमाचल में टैक्सियों की तर्ज पर पर्यटक अब मोटरसाइकिल भी किराये पर लेकर सैर सपाटा कर सकेंगे। परिवहन मंत्री जीएस बाली ने रेंट ए बाइक स्कीम को लॉन्‍च किया है। एक सप्ताह के भीतर इस स्कीम की अधिसूचना जारी की जाएगी। हिमाचल में पर्यटन को बढ़ावा देने और बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के मकसद से शुरू की गई इस स्कीम में चार साल पुरानी बाइक को भी शामिल कर लाइसेंस दिया जाएगा।

100 सीसी इंजन से ऊपर क्षमता वाली मोटरसाइकिलों को इसमें शामिल किया जाएगा। बाली ने कहा कि स्कीम के लिए पात्र लोग हिमाचली होने चाहिए और उनके घर के बाहर बाइक के लिए पार्किंग की भी व्यवस्था होनी जरूरी है। स्कीम के तहत एक मोटरसाइकिल को भी लाइसेंस देने का प्रावधान है। टैक्सी की तरह संचालित रेंट ए बाइक स्कीम में मोटरसाइकिलों की कोई भी लिमिट नहीं है।

रोहतांग दर्रा में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए एनजीटी ने हिमाचल सरकार को मनाली से रोहतांग दर्रा के बीच इलेक्ट्रिक बसें चलाने के आदेश दिए हैं। हालांकि, एक साल पहले मनाली से रोहतांग के बीच इलेक्ट्रिक बसों का सफल ट्रायल हो चुका है। इसके बाद से घाटी के लोगों और सैलानियों को इस साल पर्यटन सीजन में मनाली-रोहतांग के बीच 51 किलोमीटर लंबे सफर में इलेक्ट्रिक बसें शुरू होने की उम्मीद थी। बसों की डिलीवरी में हो रही देरी के कारण पर्यटन सीजन में इन बसों को चलाने की मुहिम को झटका लगा है।

आलू ग्राउंड में लगेंगे दस चार्जिंग प्वाइंट
मनाली-रोहतांग के बीच चलने वाली 26 इलेक्ट्रिक बसों के लिए मनाली के आलू ग्राउंड में दस चार्जिंग प्वाइंट लगाए जा रहे हैं। एचआरटीसी ने आलू ग्राउंड में चार्जिंग प्वाइंट लगाने का काम शुरू कर दिया है। एक प्वाइंट पर तीन से चार बसों को एकसाथ चार्ज करने की सुविधा मिलेगी।
आगे

Share With:
Rate This Article