योगी राज में अखिलेश के ‘ड्रीम प्रोजेक्ट’ पर लगा ब्रेक

उत्तर प्रदेश की कमान संभालने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक के बाद एक बड़े फैसले ले रहे हैं। सत्ता में आने के एक महीने बाद ही योगी सरकार ने पूर्व अखिलेश सरकार के समय शुरु की गई स्मार्ट फोन योजना को रद्द कर दिया है। योगी सरकार अखिलेश सरकार का नाम प्रदेश से मिटाने के लिए जी-जान लगा रही है। हाल ही में हुई कैबिनेट की बैठक के दौरान योगी आदित्य नाथ ने कई बड़े फैसले लिए।

बुधवार को योगी सरकार ने फैसला किया कि समाजवादी पार्टी सरकार की स्मार्ट फोन योजना समेत जनेश्वर मिश्रा ग्राम योजना, लोहिया आसरा और आवास योजना को रद्द किया जाएगा।
बता दें कि अखिलेश सरकार ने स्मार्ट फोन योजना अपने आखिरी कार्यकाल के दौरान लांच की थी।

इस योजना के जरिए अखिलेश सरकार काफी सस्ते दामों पर करीब 5 करोड़ लोगों को फोन मुहैया कराना चाहती थी। इस योजना के जरिए अखिलेश सरकार सीधे आम जनता के साथ संपर्क रखना चाह रही थी। इस योजना के लिए एक लाख से ज्यादा लोग आवेदन दे चुके थे। अखिलेश की इस योजना का मकसद था कि सरकार की प्रत्येक योजना के बारे में आम जनता को जानकारी दी जाए।

Share With:
Rate This Article