भारत आते ही खालिस्तान पर अपना रुख साफ करें सज्जन: रवनीत सिंह बिट्टू

चंडीगढ़/जलालाबाद

कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन के पंजाब दौरे को लेकर पंथक जत्थेबंदियों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने पंजाब सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के उस बयान की निंदा की, जिसमें कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हरजीत सिंह को खालिस्तानी समर्थक बताते हुए उनसे ना मिलने की बात कही है.

प्रोफेसर गुरदर्शन सिंह ढिल्लों ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह का हरजीत सिंह सज्जन के बारे में दिया गया बयान निंदनीय है. उन्होंने कहा कि ऐसा बयान देकर सीएम ने पूरी सिख कम्युनिटी की भावनाओं को आहत किया है.

वहीं, पंजाब कांग्रेस ने कनाडा के रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन के समर्थन में आगे आए सियासी व धार्मिक संगठनों को व्यक्तिगत राजनीति से ऊपर उठने का आह्वान किया है.

पार्टी के 2 सांसदों रवनीत सिंह बिट्टू तथा गुरजीत सिंह औजला ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह की सज्जन मुद्दे पर निंदा कर रहे लोग वास्तव में देश विरोधी शक्तियों के हाथों में खेल रहे हैं तथा वह देश के धर्म निरपेक्ष ताने-बाने को छिन्न-भिन्न करना चाहते हैं.

रवनीत सिंह बिट्टू ने सीएम के सुर में सुर मिलाते हुए हरजीत सिंह सज्जन पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा है कि अगर वो खालिस्तान के समर्थक नहीं है तो उन्हें भारत आते ही इस मुद्दे पर अपना रुख साफ करना चाहिए.

उन्होंने कहा कि सियासी दलों को कम से कम उन लोगों से दूरी बना कर चलनी चाहिए जो खालिस्तान के हितैषी रहे हैं.

कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि सज्जन के खालिस्तानी हितैषी होने का पता इस बात से चलता है कि लिबरल पार्टी के कई नेताओं ने ही सज्जन के खिलाफ पार्टी से इस्तीफे दे दिए थे. कनाडा में आम चुनाव से पहले इन नेताओं ने सज्जन पर गंभीर आरोप लगाए थे.

Share With:
Rate This Article