पाकिस्तानी NSA ने कहा- हमेशा ‘दुश्मन’ नहीं रह सकते भारत पाकिस्तान

पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नसीर जंजुआ ने कहा है कि पाकिस्तान और भारत ‘‘हमेशा के लिये दुश्मन नहीं बने रह सकते’’ और उन्हें परस्पर संवाद एवं द्विपक्षीय विवादों को सुलझाने की आवश्यकता है.

जंजुआ ने कल कनाडा के उच्चायुक्त पेरी कैल्डरवुड से बातचीत के दौरान ये बातें कहीं. पाकिस्तान के आधिकारिक एसोसिएट प्रेस ऑफ पाकिस्तान (एपीपी) ने जंजुआ के हवाले से कहा, ‘‘हमें परस्पर संवाद और विवादों को सुलझाना चाहिए. जंजुआ ने दोहराते हुए कहा कि पाकिस्तान और भारत हमेशा दुश्मन ही नहीं बने रह सकते.

दोनों पक्षों ने क्षेत्रीय सक्रियता एवं द्विपक्षीय संबंधों, आतंकवाद खत्म करने में पाकिस्तान की भूमिका, आतंकवाद-रोधी सहयोग, राष्ट्रीय कार्य योजना (एनएपी) और अमेरिकी मध्यस्थता की पेशकश के संदर्भ में पाकिस्तान-भारत संबंधों पर चर्चा की. जंजुआ ने परमाणु आपूर्ति समूह (एनएसजी) में पाकिस्तान की सदस्यता पर विचार करने के दौरान भेदभाव रहित दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता को रेखांकित किया.

गौरतलब है कि हाल ही पाकिस्तान द्वारा कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाए जाने के चलते दोनों देशों के बीच विवाद चल रहा है. बीते दिन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने मंगलवार को कहा था कि पाकिस्तान एक शांतिप्रिय देश है, लेकिन इसे एक कमजोरी के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए.

‘जियो टीवी’ ने प्रधानमंत्री शरीफ के बयान के हवाले से कहा, “संघर्ष के बजाय सहयोग और संदेह के बजाय साझा समृद्धि हमारी नीति की पहचान है. शरीफ रिसालपुर में असगर खान पाकिस्तान वायु सेना अकादमी में कैडेट को संबोधित कर रहे थे.

शरीफ ने कहा कि पड़ोसी देशों से दोस्ताना संबंध बनाए रखना पाकिस्तान की नीति है लेकिन इसे कमजोरी समझने की गलती नहीं करना चाहिए. शरीफ ने कहा कि अगर हमारे ऊपर किसी भी प्रकार का खतरा आता है, तो हमारी सेना हर खतरे से लड़ने के लिए तैयार है.

आपको बता दें कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुनाने के बाद नवाज शरीफ का यह बौखलाने वाला बयान सामने आया है. य ये बाते नवाज शरीफ ने पाकिस्तानी एयरफोर्स के एक कार्यक्रम के दौरान बयां की.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment