शतक से सनसनी मचाने वाले संजू सैमसन के बारे में जानिए, क्लिक करें

संजू सैमसन ने पुणे में मंगलवार को 2017 आईपीएल का पहला शतक मारा. 22 साल के इस खिलाड़ी ने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए 63 बॉल पर 102 रनों की शानदार पारी खेली.

संजू की बदौलत ही दिल्ली ने राइजिंग पुणे सुपरजाइंट के ख़िलाफ़ चार विकेट खोकर 205 रन का स्कोर खड़ा किया और दिल्ली को 97 रनों से हार का सामना करना पड़ा.

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज़ का ट्वेंटी20 क्रिकेट में पहला शतक है. इस पारी में संजू ने 8 बेहतरीन चौके और पांच ऊंचे छक्के भी मारे. आईपीएल में संजू के नाम पांच अर्धशतक हैं. दिल्ली डेयरडेविल्स ने जब अपनी ओपनिंग बल्लेबाज़ी खो दी थी तब संजू ने यह ज़िम्मेदारी संभाली.

शुरू से ही सुपर रहे संजू
इससे पहले ट्वेंटी20 में संजू का उच्चतम स्कोर 87 रन था. यह पारी संजू ने 2015-16 में झारखंड के ख़िलाफ़ मुश्ताक अली ट्रॉफ़ी में खेली थी. अप्रैल 2012 के बाद से दिल्ली डेयरडेविल्स ने 200 से ज़्यादा रन नहीं बनाए थे. संजू की पारी की बदौलत दिल्ली ने इस सीमा को तोड़ दिया.
संजू ने इस पारी के लिए पूर्व क्रिकेटर राहुल द्विड़ को श्रेय दिया है. इस पारी के बाद संजू ने कहा, ”मैं इस पारी से बहुत ख़ुश हूं. मैच जीतने के बाद और ख़ुशी हो रही है. मेरे टीम के सलाहकार राहुल सर हैं और उनकी मदद मुझे हमेशा मिलती है. यहां लोग मुझे हमेशा उत्साहित करते रहते हैं. मुझे उम्मीद है कि आने वाले सालों में मैं और अच्छा करूंगा.”

कौन हैं संजू सैमसन?
संजू का जन्म 11 नंवबर 1994 को केरल में तिरुवनन्तपुरम के पुलुविला में हुआ था. संजू एक बढ़िया विकेट कीपर भी हैं. उन्हें केरल का एक उभरता हुआ चेहरा माना जा रहा है. संजू बैटिंग और विकेट कीपिंग दोनों में तकनीकी रूप से बढ़िया माने जाते हैं. संजू की फर्स्ट क्लास क्रिकेट में एंट्री 17 साल की उम्र में केरल के लिए विदर्भ के ख़िलाफ़ हुई थी. संजू ने अपना प्रभाव तत्काल ही छोड़ दिया था. केरल के लिए खेलते हुए संजू ने दो शतक और एक अर्द्धशतक मारे थे. 2012 में संजू को कोलकाता नाइट राइडर्स में जगह मिली पर उन्हें खेलने का मौक़ा नहीं मिला था. 2013 में जब संजू राजस्थान रॉयल्स के लिए खेले तो उन्होंने अप्रत्याशित प्रदर्शन किया.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment