ओंटारियो बिल पर हरसिमरत ने की विधानसभा सत्र बुलाने की मांग

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से ओंटोरियो जैसा बिल लाने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है। ओंटारियो की संसद ने भारत में 1984 के सिख कत्लेआम को नरसंहार करार दिया था। हरसिमरत ने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी विधानसभा का विशेष सत्र बुलाकर वैसा ही प्रस्ताव पारित करना चाहिए।

सोमवार को जारी एक बयान में हरसिमरत ने कहा कि पंजाब विधानसभा के प्रस्ताव में ओंटारियो संकल्प के सार की झलक दिखाई देनी चाहिए, जिसमें सत्य और न्याय को स्वीकार किया गया है। उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि इस घटना की साजिश रचने वाले और घटना को अंजाम देने वाले सार्वजिनक तौर पर उजागर किए जाएं।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को भी इस मामले में अपना स्टैंड स्पष्ट करना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को मन में यह धारणा बनी है कि वे इस जघन्य अपराध के दोषियों खासकर जगदीश टाइटलर का बचाव कर रहे हैं। हरसिमरत ने कहा कि पिछले संसदीय चुनाव में अमरिंदर ने एक बयान जारी कर टाइटर को क्लीन चिट दी थी। जबकि सभी जानते हैं कि पुलिस रिकार्ड में भी टाइटलर की हिंसा में भूमिका के दस्तावेज उपलब्ध हैं

Share With:
Rate This Article