28 दिन से धरने पर बैठे तमिलनाडु के किसानों का PMO के सामने न्यूड प्रोटेस्ट

दिल्ली

जंतर-मंतर पर अपनी मांगों को लेकर पिछले 28 दिनों से धरने पर बैठे तमिलनाडु के किसानों ने सोमवार को साउथ ब्लॉक स्थित प्रधानमंत्री कायार्लय के बाहर नग्न होकर प्रदर्शन किया.

किसानों का एक प्रतिनिधिमंडल सोमवार को दिल्ली पुलिस के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को ज्ञापन देने के लिए साउथ ब्लॉक गया था. उस समय प्रधानमंत्री कायार्लय में नहीं थे. कुछ देर प्रतीक्षा करने के बाद सूखे और कर्ज से त्रस्त किसानों से इंतजार सहन नहीं हुआ और उसमें से एक किसान पुलिस के वाहन से अचानक कूद पड़ा और निर्वस्त्र होकर सड़क पर दौड़ने लगा.

इसे लेकर वहां अजीब स्थिति पैदा हो गई. बाद में कुछ और किसान भी निर्वस्त्र होकर सड़क पर आ गये. ये किसान पिछले 28 दिन से जंतर-मंतर पर अपनी मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं. इनसे मिलने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी गये थे.

इसके अलावा कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर और द्रमुक सांसद कानिमोझी भी इन किसानों से मिल चुके हैं. तमिलनाडु के इन किसानों का कहना है कि वे भयंकर सूखे और कर्ज की बोझ के तले दबे हुए हैं.

राज्य में पूर्वोत्तर मानसून के दौरान बहुत कम बारिश हुई है. किसानों का कहना है कि सूखे और कर्ज के भारी बोझ के चलते आत्महत्या के मामले बढ़ रहे हैं. उनकी मांग है कि सरकार कर्ज माफी के साथ किसानों के लिए राहत पैकेज भी दे. मद्रास उच्च न्यायालय भी किसानों की दिक्कतों को देखते हुए कर्ज माफी का निर्देश दे चुका है.

Share With:
Rate This Article