पर्यटकों के लिए खुशखबरी, अब 6 मिनट में पहुंच सकेंगे जाखू

दस साल के लंबे इंतजार के बाद सोमवार को शिमला में जाखू रोप-वे का संचालन शुरू हो जाएगा। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह सुबह दस बजे रोप-वे के जोधा निवास स्थित लोअर टर्मिनल पर पहुंचेंगे और रोप-वे का औपचारिक उद्घाटन करेंगे।

उद्घाटन से पहले जाखू मंदिर के पुजारी विशेष पूजा-अर्चना भी करेंगे। लोअर टर्मिनल के टॉप फ्लोर पर बनाए गए कंट्रोल रूम में मुख्यमंत्री बटन दबाकर केबिन को जाखू की ओर रवाना करेंगे। रोप-वे के जरिये अब महज छह मिनट में लोग जोधा निवास से जाखू मंदिर पहुंच सकेंगे।

प्रदेश सरकार की ओर से गठित एक्सपर्ट कमेटी जाखू रोप-वे को हरी झंडी दे चुकी है। औपचारिकताएं पूरी होने के बाद सरकार ने भी रोप-वे के संचालन की अधिसूचना जारी कर दी है। यह राजधानी शिमला का पहला रोप-वे है। 2007 में इसका शिलान्यास किया गया था।

दस साल के लंबे अंतराल के बाद रोप-वे बनकर तैयार हुआ है। स्विट्जरलैंड की तकनीक पर बनाए गए इस रोप-वे के निर्माण पर जेक्सन कंपनी ने करीब 30 करोड़ रुपये खर्च किए हैं। रोप-वे के अपर और लोअर स्टेशन के बीच दो-दो केबिन चलाए जाएंगे।

जाखू जाने के लिए लगेंगे इतने पैसे
रोप-वे के रोमांचक सफर का आनंद लेने के लिए सैलानियों को 550 रुपये खर्च करने होंगे, एक ओर के 300 रुपये लगेंगे। स्थानीय लोगों के लिए रियायती मासिक पास बनाने का एलान किया गया है।

उद्घाटन की सभी तैयारियां पूरी
जाखू रोप-वे के उद्घाटन की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पूजा अर्चना के बाद रोप-वे का औपचारिक उद्घाटन करेंगे। उद्घाटन के बाद शहर के लोग और बाहर से आने वाले टूरिस्ट रोप-वे के रोमांचक सफर का आनंद ले सकेंगे।- जेपी गुप्ता चेयरमैन, जैक्सन इंटरनेशनल लिमिटेड

Share With:
Rate This Article