अफगानिस्तान में PAK के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन

पाकिस्तान की ओर से अफगानिस्तान में लगातार की जा रही गोलीबारी के खिलाफ लोगों में आक्रोश फूट पड़ा है. पूरे अफगानिस्तान में पाकिस्तान के खिलाफ लोग सड़कों पर उतर आए हैं. आतंकवाद के पनाहगाह पाकिस्तान के खिलाफ नारेबाजी कर रहे लोगों ने अफगान राष्ट्रपति अशरफ गनी से मांग की कि वह पाक के खिलाफ जंग का ऐलान करें. दरअसल, पाकिस्तान अफगानिस्तान के नानगरहर और कुनार जैसे इलाकों में लगातार गोलीबारी कर रहा है, जिसके चलते लोगों में जमकर आक्रोश है.

अफगानिस्तान के दक्षिणी हेलमंड प्रांत के लश्करगाह में नागरिकों ने पाकिस्तान के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया. इन लोगों का कहना है कि पाकिस्तान आतंकवाद प्रायोजित देश है. लिहाजा इसे आतंकवादी देश घोषित किया जाए. सिविल सोसाइटी के सदस्यों ने कहा कि अफगानिस्तान को तबाह होने के लिए पाकिस्तानी आतंकियों और वहां की सेना के हवाले नहीं किया जाएगा.

अफगान नागरिकों पर ढहा रहा कहर पाकिस्तान आतंकवाद का मनगढंत आरोप लगाकर बलूचिस्तान और अन्य इलाकों में अफगान नागरिकों पर कहर ढहा रहा है और उनको कुचलने की कोशिश में जुटा हुआ है. इसके अलावा अफगानिस्तान के नानगहर और कुनार में रॉकेट एवं मिसाइलें दागने के साथ ही जमकर गोलीबारी कर रहा है.

अफगान युवाओं को गुमराह कर रहा ISI
अफगान युवाओं को धर्म के नाम पर गुमराह करके आतंक की आग में झोंकने में पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई और वहां के मौलवियों की मिली भगत भी सामने आ चुकी है. अफगानिस्तान-पाक सीमा डुरंड लाइन पर भी पाकिस्तान की ओर से सैन्य कार्रवाई करने की बात सामने आ रही है, जिसके चलते भी दोनों देशों के बीच तनाव गहरा गया है.

आतंकी संगठनों के लिए सुरक्षित पनाहगाह है पाक
पाकिस्तान तालिबान, लश्कर-ए-झांगवी, जैश-ए-मोहम्मद, हक्कानी नेटवर्क, जमात-उद-दावा जैसे खूंखार आतंकी संगठनों के लिए सुरक्षित पनाहगाह है. अफगानिस्तान में सबसे ज्यादा हमला करने वाले तालिबान आतंकी संगठन को पाकिस्तान काफी अहमियत देता है. इसके जरिए उसे अफगानिस्तान में आतंकवाद को बढ़ावा देने में मदद मिलती है. प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पाकिस्तान अफगानिस्तान को पूरी तरह बर्बाद करने में जुटा हुआ है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment