सीरिया में मिसाइल अटैक के बाद रूस ने निलंबित की अमेरिका से संधि

मास्‍को

सीरिया में गुरुवार रात को अमेरिका द्वारा किए गए मिसाइल हमले के बाद से गुस्‍साए रूस ने सीरिया के आसमान में दोनों सेनाओं के विमानों के बीच होने वाले गतिरोध को रोकने वाली संधि को फिलहाल निलंबित कर दिया है.

रूस ने इस हमले को एक संप्रभुत्व देश में गैरकानूनी तौर पर किया गया अतिक्रमण बताया है. क्रेमलिन से जारी एक बयान में रूस ने कहा है कि अमेरिका ने यह हमला कर अंतरराष्‍ट्रीय नियमों का उल्‍लंघन किया है. इस बयान को क्रेमलिन ने अपने आधिकारिक वेबसाइट पर भी डाला है.

अमेरिकी हमले के बाद रूस के विदेश मंत्रालय ने वर्ष 2015 में हुए इस करार को निलंबित कर दिया है. इसके तहत दोनों देशों के बीच एक हॉटलाइन तैयार की गई थी जो सीरिया के आसमान में एक दूसरे के विमानों के बीच तालमेल बिठाने का काम करती थी. इस करार के बाद दोनों देशों के विमानों को आमने-सामने आने से रोका जा सकता था.

क्रेमलिन ने अपने बयान में कहा है कि सीरियाई सेना के पास रासा‍यनिक हथियार नहीं हैं. इस बयान में कहा गया है कि इस तरह का बयान अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय का ध्‍यान भटकाने के लिए किया जा रहा है.

गौरतलब है कि मंगलवार को सीरिया में हुए रासायनिक हमले के बाद गुरुवार रात को अमेरिका के राष्‍ट्रपति ने सीरिया में मिसाइल से हमला करने के आदेश दिए थे. जिसके बाद सीरिया के मिलिट्री एयरबेस और फ्यूल डिपो को निशाना बनाया गया था. सीरिया में वर्ष 2015 से ही रूस बशर अल असद के समर्थन में लगातार विद्रोही गुटों पर हमले कर रहा है.

Share With:
Rate This Article
No Comments

Leave A Comment