धार्मिक पोस्टर फाड़ने के बाद नवादा में हिंसक झड़प, मौके पर पहुंचे गिरिराज सिंह

नवादा

बिहार के नवादा जिले में रामनवमी का पोस्टर फाड़े जाने के विवाद पर दो समुदायों में हिंसक झड़प हो गई है. जिला मुख्यालय के सद्भावना चौक पर रामनवमी का पोस्टर फाड़ने के विवाद में पहले तो दो समुदाय के लोग आपस में भिड़ गए इसके बाद दोनों तरफ से मारपीट हुई और पत्थरबाजी शुरू हो गई.

असामाजिक तत्वों ने मौका पाते ही कुछ दुकानों में आग लगा दी और कई गाड़ियों के शीशे तोड़ दिए. इससे नाराज लोगों ने एनएच 31 पर जाम लगा दिया. हालात देखते हुए वहां के सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह को मौके पर पहुंचना पड़ा. फिलहाल, प्रशासन ने घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति पर नियंत्रण पा लिया है और जाम हटवा लिया है.

navada 2

घटना की सूचना मिलते ही तुरंत जिला प्रशासन के बड़े अधिकारी मौके पर पहुंच गए. सूत्रों ने बताया कि उपद्रवियों को शांत कराने के लिए पुलिस को 6 राउंड हवाई फायरिंग करनी पड़ी है. पथराव में तीन लोगों के घायल होने की सूचना है. सभी घायलों को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है. शहर में पुलिस लगातार पेट्रोलिंग कर रही है. अफवाह फैलानेवालों पर कड़ी नजर रखी जा रही है.

गौरतलब है कि रामनवमी के मौके पर बिहार के कई जिलों में झांकी निकाली जाती है. नवादा में भी हर साल इस मौके पर शोभायात्रा निकाली जाती है, लेकिन इस मौके पर अक्सर यहां दो समुदायों में हिंसक झड़प देखने को मिलती है. इस लिहाज से रामनवमी पर नवादा को संवेदनशील माना जाता है. बावजूद इसके प्रशासन ने एहतियातन वहां सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम नहीं किए थे. केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी जिला प्रशासन पर सुरक्षा में लापरवाही का आरोप लगाया है.

navada 1

फिलहाल, जिलाधिकारी मनोज कुमार, एसपी विकास बर्मन, एसडीओ राजेश कुमार, एएसपी अभियान, एसडीपीओ समेत बड़ी संख्या में अधिकारी और पुलिस बल न केवल घटनास्थल पर कैम्प कर रहे हैं बल्कि शहर में पेट्रोलिंग भी कर रहे हैं.

इसबीच, प्रशासन का कहना है कि हालात नियंत्रण में है. संदिग्ध लोगों को देखते ही गिरफ्तार करने के आदेश दिये गये हैं. शहर में तनाव के मद्देनजर राज्य मुख्यालय से अतिरिक्त पुलिस बल की मांग की गयी है.

Share With:
Rate This Article