पंजाब के किसानों का दिल्ली में प्रदर्शन, केंद्र की नीतियों का किया विरोध

दिल्ली

पंजाब के किसानों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर सोमवार को एक बार फिर से प्रदर्शन किया, लेकिन इस दौरान पंजाब के किसान तमिलनाडू के किसानों को समर्थन देने के लिए पहुंचे थे.

kisan 2

ये प्रदर्शन भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किया गया. किसानों ने इस दौरान केंद्र सरकार की किसानों के लिए बनाई गई नीतियों का विरोध किया. किसानों की मांग है उनका कर्ज माफ किया जाए.

वहीं, सूखा पीड़ित किसानों का कहना है कि उनके सैकड़ों साथी आत्महत्या कर चुके हैं पर उनकी आज तक कोई सुनवाई नहीं हो रही है. उनको राहत नहीं दी जा रही है, जबकि राज्य को पहले सूखाग्रस्त घोषित किया जा चुका है.

kisan 3

पंजाब के किसानों का कहना है कि तमिलनाडु के किसानों के साथ इंसाफ नहीं हो रहा है और केंद और राज्य सरकार उनकी अनदेखी कर रहे है. पंजाब के किसानों का कहना है कि सरकार उनकी बदहाली को लेकर गंभीर नहीं है.

किसानों के देश में जो हालात हैं उसे बयां करने के लिए ये तस्वीर काफी है कि किसानों के बच्चे भी इस प्रदर्शन में आए हुए थे. उनको भले ही कोई ज्यादा समझ ना हो पर उनको इतना जरूर पता है कि किसानों पर जो कर्जा है उसको माफ किया जाए.

kisan 4

मौजूदा दौर में किसानों के जो हालात हैं उसको देखकर नहीं लगता है कि किसानों के अच्छे दिन आने वाले हैं क्योंकि नीति आयोग ने साफ कह दिया है कि अगले सात साल तक किसानों की आमदनी दोगुनी नहीं हो सकती. ऐसे में सबसे बड़ा सवाल ये है कि किसानों का कर्ज माफ करने और आमदनी दोगुनी करने के लिए सरकार के पास नीति नहीं है या फिर नियत नहीं है.

kisan 5

Share With:
Rate This Article