पुलिस ने सुलझाई मर्डर मिस्ट्री, दोस्त ही निकला हत्यारा

फरीदाबाद के बहुचर्चित व्यापारी राणा प्रताप आहूजा हत्याकांड की गुत्थी पुलिस ने सुलझा लिया है। राणा की हत्या उसके कारोबारी दोस्त अजीत ने की थी। अजीत वो ही शख्स है जिसे कुछ दिन पहले जगदीश की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया है। पकड़े गए अजीत ने पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक अजीत ने सुरेंद्र और वीरेंद्र के साथ मिलकर हत्याकांड को अंजाम दिया था। आहूजा से अजीत का रुपयों का लेनदेन था। अजीत को राणा के दो करोड़ तेतीस लाख रुपए देने थे। जिससे बचने के लिए अजीत ने राणा की हत्या की योजना बनाई थी। इसके लिए अजीत ने सुरेंद्र और वीरेंद्र को आठ लाख रुपये और फ्लैट देने का लालच दिया था। फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

Share With:
Rate This Article