जम्मू कश्मीर DGP का बड़ा बयान, मुठभेड़ स्थलों पर जाकर युवा कर रहे हैं खुदकुशी

श्रीनगर

घाटी में आतंकियों से मोर्चा लेते जवानों पर आम लोगों द्वारा पथराव की घटनाओं के बीच जम्मू कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने अहम बयान दिया है. उन्होंने कश्मीरी युवाओं को जवानों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के वक्त घर से बाहर न निकलने की नसीहत दी है. डीजीपी ने कहा कि तमाम कोशिशों के बाद भी हम मुठभेड़ में मारे जाने वाले नागरिकों की संख्या रोकने में नाकाम साबित हो रहे हैं.

डीजीपी एसपी वैद ने कहा, ‘युवा नागरिकों को उकसाया जा रहा है और उन्हें सेना पर पत्थर मारने को कहा जा रहा है. युवाओं को पथभ्रमित किया जा रहा है और उन्हें मुठभेड़ की जगहों पर जाने के लिए उकसाया जा रहा है.’

डीजीपी ने कहा कि बंदूक से निकली गोली यह नहीं देखती कि वह किसे लगेगी. उन्होंने कहा, ‘नौजवानों को घर पर रहना चाहिए और एनकाउंटर वाले इलाकों में नहीं आना चाहिए, यह मेरा निवेदन है. जो नौजवान एनकाउंटर साइट पर आ रहे हैं, वे जानबूझ कर आत्महत्या करने जा रहे हैं.’

डीजीपी ने पड़ोसी मुल्क की ओर इशारा करते हुए कहा कि पाकिस्तान घाटी में हिंसा भड़का रहा है. उन्होंने कहा, ‘कुछ ऐसे लोग सोशल मीडिया का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं, जो घाटी की शांति और हमारे देश के दुश्मन हैं. जैसे ही एनकाउंटर शुरू होता है, ये सोशल मीडिया का इस्तेमाल करके युवाओं को घटना वाली जगह पर जाने और सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाने के लिए उकसाते हैं. वे ऐसा इसलिए करते हैं ताकि आतंकी मौके से फरार हो सकें. सीमा पार से ऑपरेट हो रहे ऐसे कुछ अकाउंट्स का पता चला है.’

वैद ने बताया कि सैन्य बल कश्मीर में अशांति से निपटने के लिए अपनी रणनीति में बदलाव कर रहे हैं. पिछले कुछ वक्त में मिला अनुभव उन्हें हालात संभालने में मदद कर रहा है. उन्होंने दावा किया कि दूसरी तरफ से बड़े पैमाने पर उकसावे के बावजूद सुरक्षाकर्मी यह ध्यान रखते हैं कि आम लोगों को जानमाल का नुकसान कम से कम हो. उन्होंने कहा कि घाटी के युवाओं का ब्रेनवॉश करके उनको कट्टर बनाया जा रहा है, जो एक बड़ी चुनौती है.

बता दें कि हाल ही में बडगाम के चदूरा इलाके में 2 आतंकियों के छिपे होने की खबर मिलने के बाद तलाशी अभियान शुरू हुआ, लेकिन दिनभर स्थानीय लोग सुरक्षाबलों पर पत्थर बरसाते रहे. सुरक्षाबलों को एक तरफ आतंकी चुनौती दे रहे थे तो दूसरी तरफ स्थानीय नागरिक पत्थर बरसा रहे थे. इसमें कई सीआरपीएफ जवान घायल हो गए और मुठभेड़ में तीन नागरिक भी मारे गए.

Share With:
Rate This Article