पाकिस्तान की पहली महिला बैंक CEO बनीं सीमा कामिल

पाकिस्तान के छह बड़े वाणिज्यिक बैंकों में से एक यूनाइटेड बैंक लिमिटेड (यूबीएल) ने देश के इतिहास में पहली बार किसी महिला को बैंक का अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी बनाया है. सीमा कामिल पहली जून से आधिकारिक तौर पर पद संभालेंगी और तब तक वह यूबीएल के डिप्टी सीईओ के रूप में कार्य करेंगी. सीमा कामिल पाकिस्तान की एक प्रमुख बैंकर हैं और पिछले तीन दशकों से इसी क्षेत्र से जुड़ी हुई हैं.

उन्होंने 80 के दशक में लंदन के किंग्स्टन विश्वविद्यालय से बीबीए की डिग्री हासिल की और उसके बाद वहीं सिटी विश्वविद्यालय से एमबीए की पढ़ाई की.
पाकिस्तान वापस आकर उन्होंने अमेरिकन एक्सप्रेस बैंक के साथ अपना पेशेवर जीवन शुरू किया, बाद में उन्होंने ग्रिंडलेज़ बैंक में भी काम किया, जिसका बाद में स्टैंडर्ड चार्टर्ड बैंक में विलय हो गया. इसके बाद सीमा कामिल ने हबीब बैंक लिमिटेड में 16 साल तक शाखा बैंकिंग, कॉर्पोरेट इनवेस्टमेंट और रिस्क मैनेजमेंट जैसे महत्वपूर्ण मामलों को देखा.
बीबीसी से उन्होंने कहा कि इस समय उन्हें यह उम्मीद नहीं थी वे बैंक अध्यक्ष बन जाएँगी।
उनका कहना था “केवल पाकिस्तान ही नहीं दुनिया भर में महिलाओं के लिए ऊपर पहुंचना मुश्किल होता है. लेकिन मुझे आज तक बैंकिंग क्षेत्र में महिला होने के कारण कभी कोई विशेष दिक्कत नहीं आई. यह कहना कि मर्द यहां महिला प्रमुखों को पसंद नहीं करते, ऐसा नहीं है.”
उनका कहना था कि लगभग बीस करोड़ की आबादी वाले देश में बहुत कम लोग बैंकिंग प्रणाली से जुड़े हैं और यही सबसे बड़ी चुनौती है कि जनता बैंकिंग प्रणाली को अपना समझे.
सीमा को बैंकिंग के अलावा शिक्षा के क्षेत्र में गहरी रुचि है और वह कराची ग्रामर स्कूल के निदेशक मंडल के अध्यक्ष भी हैं.
उनका कहना है कि वो अपना स्कूल स्थापित करेंगी.

Share With:
Rate This Article