पीलिया से निपटने की तैयारी, स्कूल-कॉलेजों में फिल्टर लगाने का आदेश

हिमाचल में बीते साल फैले पीलिया रोग से सबक लेते हुए शिक्षा विभाग ने गर्मी का मौसम शुरू होते ही सरकारी स्कूलों और कॉलेजों में इस साल फिल्टर पानी पिलाने की तैयारी की है। उच्च शिक्षा निदेशालय ने प्रदेश के सभी स्कूल और कॉलेजों के प्रिंसिपलों को आदेश जारी कर एहतियात बरतने को कहा है।

विद्यार्थियों से घरों से पानी उबाल कर लाने की भी अपील की गई है। साल 2016 में राजधानी शिमला सहित कई जिला मुख्यालयों में गंदे पानी की सप्लाई के चलते पीलिया फैल गया था। सैकड़ों लोग पीलिया की चपेट में आकर बीमार हुए थे।

हिमाचल हाईकोर्ट ने सरकार से पीलिया की रोकथाम के लिए उचित कदम उठाने को कहा था। इसी कड़ी में मंगलवार को उच्च शिक्षा निदेशालय ने स्कूल और कालेज प्रिंसिपलों को विद्यार्थियों और स्टाफ को फिल्टर पानी उपलब्ध करवाने के लिए अल्ट्रा वॉयलट मशीनें लगाने को कहा है।

निदेशालय ने पानी के टैंकों की हर दूसरे और तीसरे महीने में उचित तरीके से सफाई करने के आदेश भी दिए हैं। शिक्षण संस्थानों में पानी को साफ करने के लिए ब्लीचिंग पाउडर, क्लोरीन की गोलियां भी रखने को कहा है।

उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. बीएल बिंटा ने कहा है हाईकोर्ट के निर्देशानुसार सभी स्कूल और कालेज प्रिंसिपलों को विद्यार्थियों और स्टाफ को पीने के लिए साफ पानी उपलब्ध करवाने को कहा गया है। शिक्षण संस्थानों में उच्च तकनीक के वाटर फिल्टर लगाए जाएंगे।

Share With:
Rate This Article