विधानसभा चुनाव में जीत पर ट्रंप ने मोदी को फोन कर दी बधाई

वॉशिंगटन

डोनाल्ड ट्रम्प ने सोमवार देर रात नरेंद्र मोदी को फोन करके उन्हें हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी की जीत के लिए बधाई दी। ट्रम्प ने मोदी के अलावा जर्मनी की चांसलर एंगेला मर्केल को भी उनकी चुनावी जीत पर बधाई दी है। बता दें कि ट्रम्प के प्रेसिडेंट चुने जाने के बाद नवंबर से लेकर अब तक मोदी से उनकी तीन बार बात हो चुकी है।

व्हाइट हाउस से दी गई जानकारी
– व्हाइट हाउस के प्रेस सेक्रेटरी सीन स्पाइसर ने रिपोर्टर्स को यहां बताया, “प्रेसिडेंट ने आज (बुधवार देर रात) जर्मनी की चांसलर और मोदी को हाल ही में हुए इलेक्शन में उनकी पार्टियों की कामयाबी पर बधाई दी।”
– मोदी और ट्रम्प के बीच फोन पर तीसरी बार बातचीत हुई है। सबसे पहले मोदी ने 9 नवंबर में ट्रम्प के प्रेसिडेंट चुने जाने के बाद उन्हें फोन करके बधाई दी थी।
– दूसरी बार ट्रम्प ने शपथ लेने के चार दिन बाद 24 जनवरी को मोदी को फोन किया था। तब दोनों नेताओं ने एक-दूसरे को अपने-अपने देश आने का न्योता भी दिया था।
– उस वक्त उन्होंने ग्लोबल टेररिज्म, डिफेंस और सिक्युरिटी में कंधे से कंधा मिलाकर एक-दूसरे का साथ देने का भरोसा जताया था।

अब तक नहीं हुई है ट्रम्प-मोदी की मुलाकात
– बता दें कि मोदी और अमेरिका के पिछले प्रेसिडेंट बराक ओबामा के बीच काफी अच्छे रिश्ते थे। दोनों की कई बार मुलाकात भी हुई। लेकिन ट्रम्प और मोदी अभी एक बार भी नहीं मिले हैं।
– व्हाइट हाउस के मुताबिक, “प्रेसिडेंट ट्रम्प मोदी को इस साल के आखिरी तक अमेरिका इनवाइट करने के बारे में सोच रहे हैं।”

ट्रम्प ने कहा था- मोदी ग्रोथ लाने वाले लीडर हैं
– अमेरिका में प्रेसिडेंट इलेक्शन की कैम्पेनिंग के दौरान भारतीय-अमेरिकियों के एक प्रोग्राम में ट्रम्प ने मोदी की तारीफ की थी।
– ट्रम्प ने कहा था, “अगर मैं प्रेसिडेंट चुना गया तो भारत और अमेरिका गहरे दोस्त होंगे और दोनों का बेहतर भविष्य होगा। नरेंद्र मोदी एनर्जेटिक हैं। वे ग्रोथ लाने वाले लीडर हैं। उनके साथ मिलकर काम करना चाहता हूं।”
– “भारत में दुनिया की सबसे बड़ी डेमोक्रेसी है। वह अमेरिका का पुराना सहयोगी रहा है।”
– “ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन के तहत दोनों देशों के रिलेशन और बेहतर होंगे। दोनों देश एक-दूसरे के करीबी दोस्त होंगे।”
– “हम भारत से खासा बिजनेस करने जा रहे हैं। भारत-अमेरिका साथ में बेहतर भविष्य होगा।”

5 में से 4 राज्यों में बनी बीजेपी की सरकार
– बता कि देश के पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनावों की शुरुआत 4 फरवरी से हुई थी और 9 मार्च तक चले।
– इनमें से चार राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में बीजेपी सरकार बनाने में कामयाब रही। हालांकि, पंजाब में बीजेपी के सहयोगी अकाली दल को कांग्रेस ने हरा दिया।
– इन चुनावों की कैम्पेनिंग में सबसे अहम किरदार मोदी और अमित शाह ने निभाया। इसके चलते उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में उनकी पार्टी को तीन-चौथाई बहुमत हासिल हुआ।
– राजनीतिक रूप से बेहद जटिल माने जाने वाले उत्तर प्रदेश में पार्टी की 15 साल वापसी हुई है।
– गोवा और मणिपुर में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला, लेकिन बीजेपी रीजनल पार्टियों की मदद से यहां भी सरकार बनाने में कामयाब रही।

Share With:
Rate This Article