बडगाम एनकाउंटर: फोर्सेस पर पथराव, जवाबी फायरिंग में दो की मौत

जम्मू-कश्मीर के बडगाम जिले के चदूरा इलाके में आतंकियों से एनकाउंटर के दौरान सिक्युरिटी फोर्सेस पर पथराव हुआ। फोर्सेस की जवाबी फायरिंग में दो लोगों की मौत हो गई और 4 घायल हो गए।

अातंकी अचानक गोलीबारी करने लगे
– एक पुलिस अफसर ने बताया, “सिक्युरिटी फोर्सेस ने चदूरा के पास ऑपरेशन कर रही थी। उन्होंने इलाके को घेरा हुआ था। उन्हें वहां आतंकियों के होने की सूचना मिली थी।”
– “अचानक से आतंकियों की तरफ से गोलीबारी होने लगी। फोर्सेस ने भी जवाबी कार्रवाई की।”
– “फोर्सेस और आतंकियों के बीच फायरिंग के दौरान बड़ी तादाद में प्रदर्शनकारी वहां आ गए। उन्होंने फोर्सेस पर पत्थर चलाना शुरू कर दिया।”
– “जवाबी फायरिंग में एक शख्स के गले में गोली लगी। हॉस्पिटल के रास्ते में ही उसकी मौत हो गई। इसके अलावा 4 लोग जख्मी हो गए।”

पीडीपी नेता के घर पर हुआ था हमला
– सोमवार रात शोपियां में एक पुलिस अफसर के घर गोलियां चलाई गई थीं। वहीं, गुरदासपुर की पहाड़ीपुर पोस्ट पर सोमवार को बीएसएफ जवानों ने बॉर्डर पर पाकिस्तानी घुसपैठिए को मार गिराया। रविवार को साउथ कश्मीर के पुलवामा जिले में सिक्युरिटी फोर्सेस के साथ एनकाउंटर में दो हिजबुल आतंकी मारे गए थे।
– रविवार को ही अनंतनाग जिले में पीडीपी नेता फारूक अंद्राबी के घर पर आतंकी हमला हुआ। उनकी सिक्युरिटी में तैनात एक पुलिसकर्मी के जख्मी होने और हथियार लूटे जाने की जानकारी मिली है।
– घायल पुलिसकर्मी को श्रीनगर के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। हमले के वक्त अंद्राबी घर में मौजूद नहीं थे। वे सीएम महबूबा मुफ्ती के करीबी रिश्‍तेदार हैं।
– आतंकी भारी हथियारों से लैस थे। गोलीबारी के बाद आतंकियों के अंद्राबी के घर में घुसने की बात बताई जा गई थी।
– 15 मार्च को जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में बुधवार को सिक्युरिटी फोर्सेस के साथ एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए थे। वहीं, 16 जनवरी को पहलगाम में आर्मी ने एनकाउंटर में 3 आतंकियों को मार गिराया था। 3 एक-47 राइफल भी जब्त की गई थीं।

सर्जिकल स्ट्राइक के बाद हुए आतंकी हमले
– 18 सितंबर के उड़ी हमले के बाद भारत की तरफ से एलओसी के पार की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आंंतकियों ने इंडियन आर्मी के कैम्प और पोस्ट को कई बार निशाना बनाया।
– बता दें कि भारत ने 28 नवंबर की देर रात को सर्जिकल स्ट्राइक की थी।

#1. शोपियां, 11 अक्टूबर:आतंकवादियों ने सीआरपीएफ की टुकड़ी पर ग्रेनेड से हमला किया। इसमें दो जवानों समेत 6 लोग घायल हो गए थे।
#2. पंपोर, 10 अक्टूबर:आतंकियों ने सीआरपीएफ के जवानों पर फायरिंग की। इसके बाद वे जेकेईडीआई की बिल्डिंग में आकर छिप गए। इस हमले में एक जवान जख्मी हो गया था।
#3. शोपियां, 8 अक्टूबर:आतंकवादियोंं ने पुलिस पोस्ट पर हमला किया। इसमें एक पुलिस जवान शहीद हो गया। हमले में कितने आतंकवादी शामिल थे, इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई थी।
#4. कुपवाड़ा, 6 अक्टूबर: कुपवाड़ा के हंदवाड़ा स्थित लंगेट में आर्मी कैम्प पर आतंकवादियों ने फायरिंग की थी। जवाबी कार्रवाई में तीन आतंकी मारे गए। आतंकवादियों के पास पाकिस्तान में बनी दवाइयां और दूसरे सामान मिले। आर्मी ने आतंकियों के खिलाफ यहां 6 घंटे ऑपरेशन चलाया था।
#5. बारामूला, 2 अक्टूबर: आतंकवादियों ने बारामूला में बीएसएफ और आर्मी के कैम्प को निशाना बनाया था। इस हमले में एक जवान शहीद हो गया और एक जवान जख्मी हो गया था। हमला करने के बाद आतंकी भागने में सफल रहे। ऐसा कहा गया कि इस हमले को 3 से 4 आतंकवादियों ने अंजाम दिया था।
#6. जकूरा (श्रीनगर), 14 अक्टूबर:सशस्त्र सीमा बल (SSB) की पैट्रोलिंग पार्टी पर आतंकी हमला, 1 जवान शहीद, 8 घायल हो गया था।
#7. तूतीगुंड (हंदवाड़ा), 15 अक्टूबर:जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों ने एक पुलिस गाड़ी पर फायरिंग की थी। हमला तूतीगुंड में हुआ था। हालांकि, जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ था।
#8. नगरोटा और सांबा, 30 नवंबर: इस दिन आतंकियों ने दो जगह हमला किए थे। नगरोटा में आर्मी की यूनिफॉर्म में कैम्प में घुसे। इस हमले में एक अफसर समेत 7 जवान शहीद हो गए थे।
– दूसरा बड़ा हमला इंटरनेशनल बॉर्डर (IB) से तीन किलोमीटर दूर सांबा के रामगढ़ इलाके में किया था। कई घंटे तक चले एनकाउंटर में BSF जवानों ने तीन आतंकवादियों को मार गिराया था। इस एनकाउंटर में BSF डीआईजी समेत 4 सिक्युरिटी पर्सनल घायल हो गए थे।

Share With:
Rate This Article