ग्रेटर नोएडा में नाइजीरियाई छात्रों पर हमला, सुषमा स्वराज ने लिया संज्ञान

दिल्ली से सटे ग्रेटर नोएडा में सोमवार शाम एक विरोध प्रदर्शन के दौरान भीड़ ने नाइजीरिया के तीन नागरिकों पर हमला किया और उन्हें घायल कर दिया.

पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को गिरफ़्तार किया है और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मामले पर यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगी है.

एसोसिएशन ऑफ़ अफ़्रीकन स्टूडेंट्स इन इंडिया (एएएसआई) ने एक बयान जारी कर कहा है कि वो भारत में गंभीर होते नस्लवाद के मुद्दे को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उठाएगा.

एएएसआई के फ़ेसबुक पेज पर जारी किए गये बयान में कहा गया है, “हम भारत सरकार की ख़ुशामद और वादों से थक चुके हैं और इसलिए हम कुछ कड़े क़दम उठाएंगे.” पांच बिंदुओं वाले इस बयान के मुताबिक़, एएएसआई अफ़्रीकी यूनियन को भारत से सभी द्विपक्षीय व्यापार बंद करने को कहेगा.

भीड़ ने किया हमला
ग्रेटर नोएडा पुलिस के मुताबिक़, हमलावरों की संख्या 25 से 30 के करीब थी. उन्होंने नाइजीरिया के नागरिकों की गाड़ियों और संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश की. पुलिस के मुताबिक़, तीनों पीड़ित नाइजीरियाई नागरिकों को इलाज के लिए अस्पताल में दाख़िल कराया गया है. उनकी स्थिति ख़तरे से बाहर है. पुलिस ने इस मामले में छह लोगों को गिरफ़्तार किया है.

Share With:
Rate This Article