बिहार: पप्पू यादव को गिरफ्तार करने में 500 पुलिसकर्मियों को लगे चार घंटे

पटना

बिहार के मधेपुरा से सांसद पप्पू यादव को गिरफ्तार कर लिया गया है. सोमवार रात पप्पू यादव को पटना में उनके घर से गिरफ्तार किया गया. दो महीने पहले पटना के गांधी मैदान थाने के बाहर प्रदर्शन के दौरान पुलिस से झड़प के मामले में सांसद की गिरफ्तारी हुई है.

दरअसल, पप्पू यादव और उनकी जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता 24 जनवरी को बिजली की दरों में बढ़ोतरी और बिहार कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षा का पर्चा लीक होने को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे. इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों के बीच झड़प हो गई थी. इसी केस में कल रात उनकी गिरफ्तारी हुई है.

पप्पू यादव की गिरफ्तारी से पहले हाई ड्रामा देखने को भी मिला. पप्पू यादव के गिरफ्तार करने के लिए उनके आवास को करीब 500 पुलिसवालों ने घेर लिया था. इतनी बड़ी संख्या में पुलिस बल होने के बावजूद उन्हें गिरफ्तार करने में करीब चार घंटे लग गए.

इधर, जन अधिकार पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष भगवान सिंह कुशवाहा ने बताया कि पार्टी के कार्यकर्ता विधानसभा घेराव के दौरान पुलिस द्वारा बर्बरतापूर्ण तरीके से लाठीचार्ज के खिलाफ काली पट्टी बांधकर ‘काला दिवस’ मना रहे हैं. उन्होंने बताया कि इस क्रम में पार्टी के कार्यकर्ता जिला मुख्यालयों में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. कई जगहों पर मानव श्रृंखला बनाकर लाठीचार्ज का विरोध किया जा रहा है.

इससे पहले सोमवार को भी आरजेडी से निलंबित सांसद पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प हुई, पुलिस ने इस दौरान लाठीचार्ज भी किया. कार्यकर्ता विधानसभा के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन कर रहे थे.

पप्पू यादव ने बीएसएससी पेपर लीक की सीबीआई जांच, सरकारी चिकित्सकों की निजी प्रैक्टिस सहित अनेक मांग को लेकर विधानसभा का घेराव किया था. प्रशासन की सतर्कता के बावजूद कार्यकर्ता प्रतिबंधित क्षेत्र में आ पहुंचे और नीतीश सरकार विरोधी नारे लगाए. पुलिस ने कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया और सचिवालय थाना ले गई. इस दौरान पुलिस और जाप कार्यकर्ताओं के बीच काफी देर तक झड़प होती रही.

Share With:
Rate This Article