न्यू यॉर्क में सिख युवती के साथ नस्लीय दुर्व्यवहार, अमेरिका से बाहर जाने को कहा

न्‍यूयार्क

सबवे ट्रेन में एक सिख अमेरिकी लड़की को भूल से मध्‍यपूर्वी देश का समझ अमेरिकी युवक ने चीखते हुए लेबनान वापस जाने को कहा और साथ यह भी कहा कि यह देश तुम्‍हारा नहीं है. अमेरिकी युवक ने कहा, ‘गो बैक टू लेबनान, यू डोंट बिलॉंग इन दिस कंट्री.’ दक्षिण-एशिया मूल के लोगों के खिलाफ हेट क्राइम का यह नया मामला है.

न्‍यूयार्क टाइम्‍स के एक रिपोर्ट के अनुसार, मैनहट्टन में अपने दोस्‍त के जन्‍मदिन पार्टी में शामिल होने के लिए राजप्रीत हायर ने सबवे ट्रेन लिया और तभी अमेरिकी युवक उसपर चिल्‍लाने लगा. राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के सत्‍ता में आने के बाद से देश में हेट क्राइम की कई घटनाएं सामने आयी हैं.

हायर का जन्‍म सिख परिवार में लेबनान से 30 मील दूर अमेरिकी प्रांत इंडियाना में हुआ है न कि मध्‍यपूर्व देश में. हायर ने कहा, वह फोन देख रही थी और तभी वह अमेरिकी युवक उसपर चीखने लगा. उस अमेरिकी युवक के ट्रेन से उतर जाने के बाद उसने एक युवती को देखा जो हायर को आंसू भरी निगाहों से देख रही थी.

रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना के बाद हायर की मदद के लिए दो महिलाएं आगे आयीं. एक ने उसके कंधे को थपथपाकर पूछा कि वह ठीक तो है. दूसरी ने सबवे स्‍टेशन पर पुलिस ऑफिसर के पास घटना दर्ज करा दी.

गत माह भारतीय मूल की महिला एकता देसाई ने एक वीडियो ऑनलाइन पोस्‍ट किया था, जिसमें सबवे ट्रेन में सफर के दौरान एक अफ्रीकी-अमेरिकी युवक ने नस्‍लीय कमेंट करते हुए उसे अनुचित नामों से बुलाया था.

कंसास में 32 वर्षीय भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोतला व उसके दोस्‍त आलोक मादासानी के साथ गोलीबारी की घटना के बाद भारतीय समुदाय स्‍तब्‍ध और भयभीत है. 51 वर्षीय अमेरिकी नेवी एडम पुरिंटन ने देश से बाहर चले जाने को कहते हुए उनपर गोली चलायी थी. पुरिंटन ने दोनों भारतीय युवकों को मध्‍यपूर्व का समझ लिया था. इस माह के शुरुआत में 39 वर्षीय सिख युवक की वाशिंगटन में हत्‍या कर दी गयी. सिएटल टाइम्‍स के अनुसार, हमलावर ने गोली चलाने से पहले कहा था- गो बैक टू योर कंट्री.

Share With:
Rate This Article