महात्मा गांधी सीरिज में ही जारी होंगे 10 रुपए के नए नोट, पढ़े पुराने नोटों का क्या होगा

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) जल्द महात्मा गांधी सीरिज 2005 में 10 रुपए का नया नोट जारी करेगा। इस नए नोट के दोनों नंबर पैनल में एल (L) अक्षर लिखा होगा। साथ ही नए नोट पर रिजर्व बैंक गवर्नर उर्जित पटेल के हस्ताक्षर भी होंगे। नोट की पिछली तरफ छपाई का वर्ष 2017 अंकित होगा। यह जानकारी केंद्रीय बैंक ने एक आधिकारिक बयान में दी है। रिजर्व बैंक ने स्पष्ट किया है कि पूर्व में जारी सभी 10 रुपए के नोट वैध मुद्रा बने रहेंगे।

10 रुपए के नोट के अन्य फीचर्स में दोनों पैनल में बायं से दायं तरफ अंक छोटे से बड़े आकार में अंकित होंगे। वहीं, पहले तीन अल्फाअ-न्यूकमेरिक कैरेक्टर (उपसर्ग) एक ही आकार के बने रहेंगे। केंद्रीय बैंक ने एक अधिसूचना में बताया है कि बैंक की ओर से जारी किए गए पुराने 10 रुपए के नोट पहले की तरह मान्ये रहेंगे।

बीते शुक्रवार को सरकार ने भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को 10 रुपए के प्लास्टिक नोट के फील्ड ट्रायल करने के लिए अधिकृत किया गया है, जो ज्यादा समय तक चलेंगे। वित्त राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने लोकसभा में एक लिखित उत्तर में कहा कि देश में सरकार ने पांच जगहों पर प्लास्टिक बैंक नोट्स का फील्ड ट्रायल करने का फैसला लिया है।

उन्होंने बताया कि प्लास्टिक सब्सट्रैट खरीदे जाने की मंजूरी दे दी गई है और रिजर्व बैंक को 10 रुपए के प्लास्टिक नोट को छापने की मंजूरी दिए जाने के संदर्भ में बता दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि कॉटन सब्सट्रैट बैंक नोट्स के मुकाबले प्लास्टिक नोट्स की जीवन अवधि ज्यादा होती है।

दुनियाभर के केंद्रीय बैंक बीते कई वर्षों से बैंक नोट्स का जीवन चक्र (लाइफ साइल) बढ़ाने के लिए प्लास्टिक नोट्स जैसे विभिन्न विकल्पों की तलाश कर रहे हैं।

Share With:
Rate This Article