अल कायदा के प्लान के बाद UAE से अमेरिका और ब्रिटेन आ रहे विमानों में ये सामान बैन

अमेरिका ने 8 मुस्लिम बहुल देशों से आने वाले विमानों में यात्रियों द्वारा इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के लाए जाने पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया है। अनुमान लगाया जा रहा था कि किसी आतंकवादी हमले की आशंका के मद्देनजर यह बैन लगाया गया है। अब जो जानकारियां सामने आ रही हैं, उनके मुताबिक खुफिया विभाग को हाल के दिनों में पता लगा है कि अल कायदा से जुड़े आतंकवादी बैटरियों और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के बैटरी वाले हिस्से में विस्फोटक छुपाकर धमाका कर सकते हैं। बैन के बाद मिस्र, जॉर्डन, कुवैत, कतर, सऊदी अरब, तुर्की और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) से आ रहे विमानों में यात्री लैपटॉप, आईपैड, कैमरा और कई अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान नहीं ला सकेंगे। यह प्रतिबंध मंगलवार से लागू हुआ। पहले केवल अमेरिका ने यह बैन लगाया था, फिर ब्रिटेन ने भी यह प्रतिबंध लगाने की घोषणा की।

इन खुफिया जानकारियों के बाद ही अमेरिका और ब्रिटेन ने कुछ खास देशों से आ रहे विमानों पर इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरणों को प्रतिबंधित कर दिया है। अमेरिकी अधिकारियों ने CNN को बताया कि खुफिया विभाग को मिली जानकारी से पता चलता है कि आतंकवादी संगठन अभी भी विमानों को निशाना बनाने की रणनीति पर काम कर रहे हैं। इसके लिए यात्रियों के सामान में विस्फोटक छुपाकर लाने की कोशिश की जा रही है।

एक अमेरिकी अधिकारी के हवाले से CNN ने बताया, ‘अरेबियन प्रायद्वीप में अल कायदा बैटरियों, लैपटॉप और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के बैटरी लगाने वाले हिस्से में विस्फोटक लगाने के तरीके तलाश रहा है। यह जानकारी मिलने के बाद ही अमेरिका और ब्रिटेन ने कुछ विमानों के अंदर मोबाइल फोन से बड़ी बैटरियों वाले इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों पर बैन लगा दिया है।’ इन नए सुरक्षा प्रतिबंधों की घोषणा मंगलवार को हुई। इस प्रतिबंध के बाद इन 8 देशों से आने वाले एयरलाइन्स अपने विमान में यात्रा कर रहे लोगों को स्मार्ट फोन से बड़े किसी भी इलेक्ट्रॉनिक उपकरण को साथ नहीं लाने दे रहे हैं।

Share With:
Rate This Article