मंत्री पद पर उठे विवाद के बीच बोलीं सिद्धू की पत्नी- नवजोत छोड़ सकते हैं शो

चंडीगढ़

क्रिकेटर से राजनेता बने और अब कॉमेडी शो के जज की भूमिका से चर्चा में आए नवजोत सिद्धू ने हाल ही में पंजाब में नई सियासी पारी शुरू की थी, लेकिन मामला विवादों में घिर गया है. मंत्री पद और कॉमेडी शो का काम एक साथ करने पर उठे विवाद के बीच मंगलवार को सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर ने कहा कि अगर ये मामला ऑफिस ऑफ प्रॉफिट के तहत आएगा तो सिद्धू शो छोड़ देंगे.

नवजोत कौर ने कहा कि इस मामले को बेवजह तूल दिया जा रहा है. फेसबुक पर लिखे एक पोस्ट में पूर्व क्रिकेटर की पत्नी ने कहा ऐसा कहा जा रहा है कि नवजोत सिंह अपनी जीविका टीवी से कमाते हैं. जब मैं विधायक थी तो मेरे घर का बिजली का बिल और मेहमानों के लिए चाय का खर्चा उससे ज्यादा आता था. हमारे पास टीवी के सिवाय कोई बिजनेस या आय का कोई स्रोत नहीं है.

उन्होंने कहा कि उन्होंने आईपीएल, कॉमेंटेटर के करीब 80 प्रतिशत शो छोड़े हैं. कॉमेडी नाइट्स विद कपिल के 2 शोज की शूटिंग पूरे हफ्ते में सिर्फ 5 घंटे होती है, वो भी ज्यादातर शनिवार के दिन.

नवजोत कौर ने इन अटकलों को भी खारिज किया कि सिद्धू ने शहरी विकास मंत्रालय की मांग की है. नवजोत कौर ने कहा कि सिद्धू ने बस एक सुझाव दिया है.

इससे पहले, ये खबर आई थी कि पंजाब सरकार में मंत्री बने नवजोत सिंह सिद्धू अगर कॉमेडी शो ‘द कपिल शर्मा शो’ में काम करना जारी रखना चाहते हैं, तो मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह इसे लेकर कानूनी सलाह लेंगे.

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा- मैं नहीं जानता कि संविधान इस बारे में क्या कहता है. हमें हमारे वकील से पूछना होगा कि क्या कोई मंत्री रहते हुए वो कर सकता है, जो वो करना चाहता है. ये पूरी तरह से कानून पर निर्भर करता है. मैं नहीं जानता कि ये हितों का टकराव है या नहीं. मैं राय लूंगा और उसके बाद सिद्धू से बात करूंगा.

चुनाव से पहले कांग्रेस में आए सिद्धू को अमरिंदर सिंह ने स्थानीय प्रशासन, पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले, आर्काइव्स एवं म्यूजियम जैसे मंत्रालयों की जिम्मेदारी सौंपी है.

मंत्री बनने के बाद सिद्धू ने कहा था कि वह ‘द कपिल शर्मा शो’ के साथ पहले की तरह ही जुड़े रहेंगे. सिद्धू ने कहा, ‘राजनीति एक तरफ है और रोजगार एक तरफ. इस शो के लिए उन्हें एक रात देना होता है, क्योंकि यह शो रात को सूट होता है. इसके लिए वह रात की फ्लाइट से मुंबई जाएंगे और अगले दिन फिर से चंडीगढ़ पहुंचकर लोगों की सेवा में लग जाएंगे.’

Share With:
Rate This Article