Whatsapp से सीएम वीरभद्र सिंह जानेंगे लोगों की समस्याएं

मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने लोगों से सीधा संवाद करने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है। इसी कड़ी में रविवार शाम 7 बजे मुख्यमंत्री ने पहली बार सोशल मीडिया के माध्यम से प्रदेश की जनता से लाइव बातें कीं। इस दौरान मुख्यमंत्री ने फेसबुक के जरिए अपने दिल की बात जनता से कही। उन्होंने कहा कि सोशल नैटवर्क का चलन आज इतनी तेजी से बढ़ा है कि बिना किसी देरी के लोग अपनी बात दूसरों तक पहुंचा पा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि फेसबुक के जरिए उन्हें भी अधिक से अधिक लोगों से जुड़ने का मौका मिला है तथा वह लोगों के और करीब आए हैं। उन्होंने कहा कि वह इसके माध्यम से लोगों की अधिक समस्याओं को जान सके हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों की प्राप्त समस्याओं को दूर करने का वह प्रयास करेंगे।

3 मिनट 25 सैकेंड प्रशंसकों से लाइव बातें
कुल 3 मिनट 25 सैकेंड तक वीरभद्र सिंह ने रविवार को सायं 7 बजे अपने प्रशंसकों से लाइव बातें कीं। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की जनता से आह्वान किया कि किसी भी क्षेत्र की कोई भी समस्या हो, उसका सोशल मीडिया के माध्यम से निपटारा करूंगा। इस दौरान वीरभद्र सिंह ने अपना मोबाइल नंबर व्हाट्स एप के लिए सार्वजनिक किया। उन्होंने कहा कि उनके व्हाट्स एप नंबर 98166-61555 पर उन्हें समस्या से अवगत करवाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि मैं हमेशा आपके लिए खड़ा हूं। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि मैं आपसे जुड़ रहा हूं और हम एक-दूसरे से घर बैठे बात कर सकते हैं। वीरभद्र सिंह ने कहा कि मुझसे व्हाट्स एप पर जुड़ें और समस्या बताएं। उन्होंने कहा कि वह अधिक से अधिक लोगों को उपलब्ध हो सकें, इसके लिए वह हमेशा प्रयास करते रहते हंै।

6500 से अधिक लोग देख चुके वीडियो
खबर लिखे जाने तक मुख्यमंत्री के इस प्रयास को 1 हजार से अधिक लोगों के लाइक मिल चुके थे जबकि 137 लोगों द्वारा उनके वीडियो को शेयर किया जा चुका था। इसके साथ ही 6500 से अधिक लोग वीडियो को देख चुके थे। मुख्यमंत्री से इस दौरान लोगों ने जमकर प्रश्न किए। अनुबंध कर्मचारियों के कार्यकाल को पांच साल से घटा कर 3 साल किए जाने की मांग प्रमुखता से लोगों ने की। इसके साथ ही अन्य समस्याओं को उठाया गया।

बाली भी हो चुके हैं रू-ब-रू
परिवहन मंत्री जी.एस. बाली भी सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों से रू-ब-रू हो चुके हैं। इसके साथ ही प्रदेश में कांग्रेस और भाजपा के अन्य नेता भी सोशल मीडिया पर खासे सक्रिय हैं। देखा जाए तो राजनेताओं में अधिक से अधिक लोगों के करीब जाने के लिए सोशल मीडिया का प्रचलन तेजी से बढ़ता जा रहा है।

Share With:
Rate This Article