कराची में गायब हुए दोनों भारतीय मौलवी सुरक्षित, कल देश लौटेंगे

हजरत निजामुद्दीन दरगाह के दो मौलवी पाकिस्तान में लापता हो गए थे. कल खबर आई थी कि उन्हें पाक की खुफिया एजेंसियों ने हिरासत में लिया था. अब इन दोनों मौलवियों को 20 मार्च को वापस भारत लाया जाएगा.

दोनों मौलवी अपने रिश्तेदारों के पास और लाहौर की दरगाह पर जियारत करने टूरिस्ट वीजा पर पाकिस्तान गए थे. नजीम निजामी कराची से और आसिफ निजामी लाहौर से लापता हुए थे. ये दोनों लोग बुधवार शाम से लापता थे.

मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान से सहयोग की मांग की थी. सूफियों की भारत वापसी पर खुशी जताते हुए आसिफ निजामी के बेटे ने सरकार और मीडिया का शुक्रिया अदा किया.

इससे पहले सुषमा स्वराज ने आशंका जताई थी कि मौलवियों के गायब होने के पीछे पाकिस्तान की सुरक्षा एजेंसियां हैं. दोनों सूफी संतो की मेजबानी करने वाले लोगों पर भी सुरक्षा एजेंसियों ने दवाब बनाया हुआ था. उन्हें भारतीय हाईकमिश्नर से बात करने से रोका जा रहा है. दोनों मौलवियों को हिरासत में लेने के कारणों का अभी तक खुलासा नहीं हो पाया है

Share With:
Rate This Article