अवैध कटान मामला: HPCA को राहत नहीं, 11 अप्रैल को अगली सुनवाई

शिमला

हाईकोर्ट में एच.पी.सी.ए. के खिलाफ धर्मशाला में दर्ज अवैध पेड़ कटान मामले में दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई 11 अप्रैल के लिए टल गई। न्यायाधीश सुरेश्वर ठाकुर के समक्ष इस मामले पर सुनवाई हुई। एच.पी.सी.ए. के खिलाफ सरकारी भूमि से सवा 400 पेड़ों के कथित अवैध कटान के कारण दर्ज प्राथमिकी को रद्द करने की गुहार को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। मामले के अनुसार धर्मशाला स्थित पवेलियन होटल के निर्माण में सरकारी भूमि से सवा 400 पेड़ों के अवैध कटान की बात सामने आई थी। 29 नवम्बर, 2013 को इस बाबत प्राथमिकी दर्ज की गई।

अनुराग सहित इन लोगों पर दर्ज है मामला
इस मामले में अनुराग ठाकुर, एच.पी.सी.ए. के सचिव विशाल मरवाह, एच.पी.सी.ए. के पी.आर.ओ. संजय शर्मा, तात्कालिक तहसीलदार जगदीश राम, वन विभाग के रेंज अधिकारी विधि चंद, तात्कालिक कानूनगो कुलदीप कुमार और तात्कालिक पटवारी जगत राम को भी आरोपी बनाया गया है। पुलिस ने इस मामले की जांच करने के पश्चात विशेष न्यायाधीश के समक्ष चालान पेश किया है। याचिकाकर्ताओं के अनुसार यह मामला सिविल नेचर का है परन्तु मुख्यमंत्री कि विशेष दिलचस्पी के चलते इस मामले को क्रिमिनल बनाया गया है।

Share With:
Rate This Article