बच्चों के तस्करी केस में नाम आने पर राज्यसभा में भड़कीं रूपा गांगुली

भारतीय जनता पार्टी (BJP) की राज्यसभा सांसद और महिला विंग की अध्यक्ष रूपा गांगुली गुरुवार को सदन में काफी आक्रामक तेवर में नजर आईं। कांग्रेस की सांसद रजनी पाटिल द्वारा विमला आवास कांड में बच्चों की तस्करी के मामले का जिक्र किए जाने के बाद रूपा भड़क गईं।

उन्होंने अपनी जगह पर खड़े होकर आरोप लगाया कि पाटिल ने प्रत्यक्ष तौर पर इस मामले में उनका नाम लिया है। रूपा ने इसपर प्रतिक्रिया करने के लिए सभापति से बोलने का समय मांगा। रूपा ने अपनी सीट पर खड़े होकर कहा कि सभापति को उन्हें बोलने का समय देना होगा।

रूपा ने कहा कि अगर सभापति उन्हें बोलने का समय नहीं देते हैं, तो वह उनकी सीट के पास आकर बोलेंगी। उनके साथ-साथ BJP के कुछ सांसद भी उनके पक्ष में बोलने लगे। पाटिल के बयान का विरोध करते हुए रूपा सभापति के आसन के पास भी पहुंच गईं।

पाटिल के बयान का विरोध करते हुए रूपा ने अपनी सीट पर खड़े होकर कहा, ‘माननीय सभा और सभी सम्मानीय सांसदों से मैं कहना चाहूंगी कि वे निजी आरोप ना लगाएं।’ वह बोल ही रही थीं कि सभापति ने बीच में ही उन्हें रोकते हुए पूछा कि क्या कांग्रेस सांसद ने उनका नाम लिया है।

सभापति उनसे लगातार पूछते रहे कि क्या उनका नाम लिया गया है। इसके जवाब में रूपा ने कहा कि सीधे तौर पर उनका नाम तो नहीं लिया गया है, लेकिन इशारों में उनके यहां उपस्थित होने का जिक्र किया गया है। इसपर सभापति ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह रेकॉर्ड देखकर इसका पता लगाएंगे।

उन्होंने कहा कि अगर रूपा का नाम प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष तौर पर लिया गया होगा, तो वह रेकॉर्ड देखकर इसे हटवा देंगे। सभापति ने कहा कि कोई सीधे तौर पर अगर नाम ना भी ले, तो भी पद का जिक्र करके या फिर किसी और अप्रत्यक्ष तरीके से इस तरह किसी सांसद का नाम नहीं ले सकता है। सभापति द्वारा आश्वासन दिए जाने के बाद रूपा शांत होकर अपनी जगह पर बैठ गईं।

मालूम हो कि बच्चों की खरीद-फरोक्त और तस्करी मामले में गिरफ्तार विमला आवास कांड की आरोपी चंदना चक्रवर्ती ने बच्चों को बेचने की प्रक्रिया में रूपा गांगुली और कैलाश विजयवर्गीय का नाम लिया था। पश्चिम बंगाल में CID द्वारा इस मामले में पूछताछ किए जाने पर खुद को निर्दोष बताते हुए चंदना ने इन सभी को को पकड़ने की बात कही थी। चंदना विमला शिशु गृह चलाती थी। उसपर कई बच्चों को बेचने का आरोप है।

Share With:
Rate This Article