बुजुर्ग साहित्यकारों को सम्मानित करेगी हरियाणा सरकार, पढ़ें कैसे होगा रजिस्ट्रेशन

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस की, जहां उन्होंने 1 नवंबर 2016 से 31 अक्टूबर 2017 के बीच स्वर्ण जयंती वर्ष के तहत प्रदेश में विभिन्न कार्यक्रमों के आयोजन की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि इसी कड़ी में आगामी 17 मार्च से 19 मार्च के बीच पंचकूला में हरियाणा साहित्य संगम का आयोजन किया जाएगा, जिसमें 80 साल से ऊपर के वयोवृद्घ साहित्यकारों को सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा साहित्यकारों व रचनाकारों को भी सम्मानित किया जाएगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने हरियाणा साहित्य संगम की वैबसाइट http://haryanasahityasangam.org/registration को लांच किया।

उन्होंने कहा कि तीन दिवसीय हरियाणा साहित्य संगम चार भाषाओं का संगम है। इसमें हिन्दी, संस्कृत, उर्दू और पंजाबी के हरियाणा से और दूसरे प्रांतों से ऐसे 2000 साहित्यकार, रचनाकार और लेखक भाग लेंगे, जिन्होंने हरियाणा की गौरवशाली संस्कृति, यहां की परम्पराओं, इतिहास, जन-जीवन, पुरातत्व और आधुनिक हरियाणा पर पुस्तकें और लेख लिखे हैं। इन साहित्यकारों में हिन्दी और हरियाणवी के एक हजार, संस्कृत, उर्दू और पंजाबी के 250-250 साहित्यकार होंगे तथा 250 दूसरे लेखक तथा रचनाकार होंगे। उन्होंने कहा कि इस आयोजन का उद्देश्य साहित्य और संस्कृति के क्षेत्र में हरियाणा के योगदान को उजागर करना तथा उभरते लेखकों को व्यापक एवं सही मार्गदर्शन देने के लिए एक मंच उपलब्ध करवाना है। हरियाणा के 50 वर्षों के इतिहास में इस प्रकार का आयोजन पहली बार हो रहा है, जिसमें देश व प्रदेश के लेखकों, साहित्यकारों तथा चिंतकों को अपने अनुभव और ज्ञान को सांझा करने का अनूठा अवसर मिलेगा।

Share With:
Rate This Article