पढ़ें, विदेश में भारतीयों पर हो रहे हमले पर सुषमा स्वराज का बयान

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज लंबी बीमारी के बार स्वस्थ होने के बाद संसद की कार्यवाही में हिस्सा लिया। इस मौके पर सभी सांसदों और स्वयं लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सुषमा स्वराज का स्वागत किया। इसके बाद सुषमा स्वराज ने सभी सदस्यों और विशेष रुप से लोकसभा अध्यक्ष को धन्यवाद दिया। सुषमा स्वराज ने अमेरिका में हुए भारतीयों पर हमले की निंदा की और जवाब दिया।
विदेश मंत्री ने कहा, पिछले दिनों तीन बार भारतीयों पर हमले हुए, पहली घटना 22 फरवरी को हुई, जब कुछ लोगों ने एक भारतीय को गोली मारकर हत्या कर दी, इसमें 1 भारतीय और एक अमेरिकन घायल हो गए। घटना में अमेरिकी पुलिस FIR दर्ज कर ली है और आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले को FIB ने अपने हाथों में ले लिया है।

दूसरी घटना 2 मार्च को हुई, जब अवनीश नाम के भारतीय को अज्ञात लोगों ने गोली मार दी। जो जानकारी मिली है, उसके मुताबिक डकैती के लिए घटना को अंजाम दिया गया। वहीं 4 मार्च को वाशिंगटन में अज्ञात लोगों ने दीप राय नाम के भारतीय को गोली मार दी, उस दौरान यह बात सामने आई कि उसे देश छोड़कर जाने के लिए कहा गया।उपचार के बाद दीप राय खतरे से बाहर हैं। दोनों ही मामलों में FIB नजर बनाए हुए है। विदेश मंत्री ने बताया कि अमेरिकी प्रशासन यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि यह सभी घटना नस्लीय है या नहीं।

ट्रंप ने की निंदा – सुषमा स्वराज
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बताया कि कंसास हमले की खुद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनॉल्ड ट्रंप ने निंदा की और इस तरह की घटनाओं से निपटने का भरोसा दिया। वहीं कंसास ने गवर्नर ने खुद मामले में अपनी बात रखी और कहा कि कंसास भारतीयों की निष्ठा और समपर्ण को देखते हुए कंसास हमेशा भारतीयों का स्वागत करेगा।

विपक्ष को दिया जवाब
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि विपक्ष को बताना चाहती हूं कि बीमार होने के बावजूद मैं खुद सभी घटनाओं पर नजर बनाए हुई थी, इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद चुनाव प्रचार में व्यस्त होने के बाद भी मुझसे जानकारी लिया करते थे। विदेश मंत्री ने कहा, उनकी सरकार विदेश में फंसे भारतीयों की मदद 24 घंटे के अंदर कर देती है।

Share With:
Rate This Article