क्या राजनाथ सिंह होंगे UP के मुख्यमंत्री?

यूपी में बीजेपी की मिली जीत इतनी जबरदस्त है कि अब पार्टी के कर्णधारों को सीएम की पसंद पर भी दोबारा गौर करना पड़ रहा है. इंडिया टुडे के सूत्रों के मुताबिक अब गृह मंत्री राजनाथ सिंह को इस ओहदे का सबसे प्रबल दावेदार माना जा रहा है. केशव प्रसाद मौर्य और मनोज सिन्हा का भी नाम दौड़ में है. यूपी में दो डिप्टी सीएम भी बन सकते हैं.

राजनाथ क्यों बने पहली पसंद?
सूत्रों की मानें तो यूपी चुनाव के नतीजों को बीजेपी नेतृत्व किसी भी जातीय समीकरण से परे मान रहा है. लिहाजा पार्टी की सोच है कि अगला सीएम ऐसा हो जो सभी तबकों को साथ लेकर चल सके. पहले पार्टी के रणनीतिकारों का आकलन था कि गैर-यादव ओबीसी पार्टी को सत्ता तक पहुंचाएंगे. इसलिए किसी ओबीसी नेता को प्रदेश की कमान सौंपी जा सकती है. लेकिन ये जीत इतनी बड़ी है कि पार्टी को अब इस रणनीति पर दोबारा गौर करना पड़ रहा है.

बड़ी जीत का मतलब बड़ी जिम्मेदारी भी है. लिहाजा बीजेपी को अब सीएम की कुर्सी पर ऐसा नेता चाहिए जो तेज तरक्की की उम्मीद पर खरा उतर सके और राज्य की कानून व्यवस्था को पटरी पर ला सके. फिलहाल यूपी में राजनाथ सिंह पार्टी के सबसे बड़े कद्दावर नेता हैं. उन्हें पार्टी के नरमपंथी धड़े का नेता माना जाता है और वो पहले भी मुख्यमंत्री रह चुके हैं.

बैठकों का दौर
सूत्रों के मुताबिक यूपी के अगले सीएम को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह आरएसएस के सीनियर नेताओं से चर्चा कर चुके हैं. उन्होंने इस बारे में संघ के सीनियर नेता कृष्ण गोपाल से भी बात की है. गोपाल आरएसएस और बीजेपी के बीच समन्वय बनाए रखने का जिम्मा संभालते हैं. इस मसले पर अमित शाह और राजनाथ सिंह के बीच भी बातचीत हो चुकी है. हालांकि आखिरी फैसला बुधवार तक आने की उम्मीद है. अब तक राजनाथ सिंह कहते रहे हैं कि वो केंद्र में अपनी भूमिका में बने रहेंगे.

रेस में ये भी हैं
राजनाथ सिंह के अलावा पार्टी के ओबीसी चेहरे और राज्य इकाई के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य को भी सीएम की रेस में अहम दावेदार मा जा रहा है. उनके अलावा संभावित मुख्यमंत्रियों में केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा और महेश शर्मा का भी नाम शामिल है.

Share With:
Rate This Article