सीन स्पाइसर से भिड़ीं भारतीय मूल की अमेरिकी महिला, किए ये सवाल

आव्रजन मुद्दे पर ट्रंप की नीतियों के खिलाफ लोगों का गुस्सा धीरे धीरे बढ़ता जा रहा है। अमेरिका में रह रहे लोग अब ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों पर सार्वजनिक जगहों पर भी अपना गुस्सा उतारने लगे हैं।

ऐसा ही कुछ वाकया सामने आया वाशिंगटन के एक एप्पल स्टोर में, जहां एक भारतीय महिला ट्रंप के खास और व्हाइट हाउस के प्रवक्ता सीन स्पाइसर से भिड़ गई। महिला ने स्पाइसर से कुछ बहुत तीखे सवाल किए जिस पर भड़के स्पाइसर ने महिला से कहा कि “हमारा देश महान है इसलिए हम तुम्हें यहां रहने देते हैं।” महिला ने इस दौरान स्पाइसर के साथ हुई हॉट टॉक की वीडियो भी बनाई जिसे ट्विटर पर डाल दिया।

मीडिया की खबरों के अनुसार यह सारा वाकया हुआ एप्पल स्टोर में हुआ, जहां एक श्री चौहान नाम की भारतीय महिला अपना फोन ठीक करवाने आई हुई थी। इसी दौरान उसे व्हाइट हाउस के प्रवक्ता सीन स्पाइसर भी अंदर आते हुए दिखाई दिए, महिला ने स्पाइसर को बिना किसी सुरक्षा तामझाम के देखा तो वह उनसे सवाल पूछने लगी।


महिला ने स्पाइसर से पूछे चुभते सवाल
महिला ने बताया कि मैं उनसे काफी सवाल पूछना चाहती थी लेकिन उन्हें देखकर मैं नर्वस हो गई। वक्त भी कम था इसलिए मैं उनसे ज्यादा सवाल नहीं कर सकी। हालांकि इस दौरान चौहान ने स्पाइसर से पूछा कि क्या आपने रूस की मदद की थी, क्या आपने राष्ट्रपति की तरह कभी राजद्रोह किया है।

आप मुझे रूस के बारे में क्या बता सकते हैं…. और आप अपने देश को तबाह करने के बारे में क्या सोचते हैं? महिला ने इस पूरे वाकये की वीडियो बनाकर टि्वटर पर भी डाल दी, जो कुछ देर में ही वायरल हो गई।

महिला ने बताया कि वह एक दशक से वाशिंगटन में रह रही है और इस दौरान उसे बहुत से विशिष्ट लोगों से मुलाकात करने का अवसर मिला लेकिन उसने कभी उनसे बात नहीं की। महिला ने बताय कि इससे पहले कभी देश में इस तरह के हालात नहीं रहे कि वहां आने जाने पर प्रतिबंध की बात कही जाए।
ट्रंप प्रशासन पर लगाया देश को बर्बाद करने का आरोप

डोनाल्ड ट्रंप और उनके सहयोगी खुलेआम हमारे संविधान और लोकतंत्र को कुचल रहे हैं। वीडियो के अनुसार महिला लगातार स्पाइसर के सामने अपने सवाल दोहराती रही। इस पर भड़के स्पाइसर ने कहा कि हमारा देश एक महान देश है जो तुम्हे यहां आने देता है। चौहान ने स्पाइसर के इस बयान को नस्लभेदी बताते हुए कहा यह सीधे सीधे एक तरह से धमकी है।

वहीं बाद में व्हाइट हाउस में रोजाना की प्रेस कान्फ्रेंस में स्पाइसर ने इस घटना का जिक्र करते हुए कहा कि अमेरिका एक फ्री कंट्री है जहां किसी को भी जैसे चाहे अपनी बात रखने का हक है। स्पाइसर ने कहा कि मैं दिनभर कई बार इस तरह के लोगों से मिलता हूं, उनमें से 90 फीसदी खुश होते हैं उनमें कुछ ऐसे भी होते हैं जो हमारी बातों या नीतियों से खुश नहीं होते हैं लेकिन उन्हें भी अपनी बात रखने का हक है।

वहीं ट्रंप के चुनावी अभियान में सबसे बड़े दानदाता रहे भारतीय अमेरिकी शलभ कुमार ने महिला के कृत्य की आलोचना करते हुए कहा कि, मैंने महसूस किया है कि महिला हिलेरी की समर्थक थी जो पाकिस्तान को प्यार करती हैं। शलभ ने कहा उस महिला को पाकिस्तान भेज देना चाहिए जहां जाकर वह महसूस कर सके कि हमारा देश कितना महान है।

Share With:
Rate This Article