भारत ने ब्रह्मोस का किया सफल परीक्षण, 450 KM तक वार करने में सक्षम

बालेश्वर (उड़ीसा)

भारत ने 300 किलोग्राम के आयुध ले जाने में सक्षम ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल का आज सफल परीक्षण किया. रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के अधिकारियों ने बताया कि सुबह करीब 11 बजकर 33 मिनट पर यहां चांदीपुर में एकीकृत परीक्षण रेंज से एक मोबाइल लॉन्चर से क्रूज मिसाइल का परीक्षण किया गया. इस परियोजना से जुड़े डीआरडीओ के एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने कहा, ‘‘यह उत्कृष्ट परीक्षण और एक बड़ी सफलता है.’’

यह मिसाइल 300 किलोग्राम के आयुध ले जाने में सक्षम है. यह मिसाइल पहले चरण में ठोस और दूसरे में रैमजेट तरल प्रणोदक प्रणाली से संचालित है. इसे पहले ही सेना और नौसेना में शामिल कर लिया गया है, जबकि वायु सेना में शामिल करने के लिए इसका परीक्षण अंतिम चरण में है.

उन्होंने बताया कि ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल श्रृंखला की पहली क्रूज मिसाइल को आईएनएस राजपूत के साथ 2005 में भारतीय नौसेना में शामिल करने की प्रक्रिया शुरू की गई थी और अब ये सेना के दो रेजिमेंट में पूरी तरह से संचालनात्मक स्थिति में है.

मिसाइल के वायु प्रक्षेपण और पनडुब्बी प्रक्षेपण संस्करण पर काम चल रहा है. ब्रह्मोस भारत और रूस द्वारा संयुक्त रूप से विकसित अब तक की सबसे आधुनिक क्रूज मिसाइल है.

Share With:
Rate This Article