हरियाणा विधानसभा में स्वामी रामदेव पर कांग्रेस की टिप्पणी को लेकर हंगामा

चंडीगढ़

हरियाणा विधानसभा बजट सत्र के नौंवे दिन भी सदन में हंगामा देखने को मिला. हंगामे की शुरुआत कांग्रेस विधायकों द्वारा योगगुरु स्वामी रामदेव पर की गई आपत्तिजनक टिप्पणी के चलते हुई.

दरअसल, सदन में कांग्रेस विधायकों ने चर्चा के दौरान स्वामी रामदेव पर व्यक्तिगत टिप्पणी कर दी, जिसपर बीजेपी विधायकों ने आपत्ति जताई. उसके कुछ देर बाद, हर्बल फॉरेस्ट के मुद्दे पर भी बीजेपी और कांग्रेस विधायकों में जमकर नोकझोंक हुई.

वहीं, एसवाइएल नहर के मुद्दे पर जब कांग्रेस विधायक रणदीप सुरजेवाला बोलने के लिए उठे तो इनेलो विधायक दल के नेता अभय सिंह चौटाला ने रणदीप सुरजेवाला को घेरने की कोशिश की.

उन्होंने पंजाब के कांग्रेस नेताओं के हरियाणा को एक भी बूंद पानी का नहीं देने के बयान पर सुरजेवाला को घेरा, जिसको लेकर अभय चौटाला और रणदीप सुरजेवाला के बीच कहासुनी होने लगी. इसके बाद इनेलो विधायक भी अपनी सीटों पर खड़े हो गए और उन्होंने जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी.

सदन के बाहर नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रणदीप सुरजेवाला पर निशाना साधते हुए कहा, ‘बीजेपी और कांग्रेस मिली हुई हैं. बीजेपी ने रणदीप सुरजेवाला का स्वागत किया, जबकि बीजेपी को सुरजेवाला के खिलाफ निंदा प्रस्ताव लाना चाहिए था.’

उन्होंने कहा, ‘बीजेपी ने सुरेजवाला को प्रोटेक्ट करने का काम किया है और इनेलो इनकी हकीकत जनता को बताएगी. साथ ही अभय चौटाला ने कहा कि. सदन में तब जाएंगे. जब एसवाईएल पर पंजाब का समर्थन करने वाले रणदीप सुरजेवाला जवाब देंगे.’

Share With:
Rate This Article