काटे गए 600 गांव के बिजली कनेक्शन होंगे बहाल

पटियाला

पंजाब राज्य बिजली निगम की तरफ से गांवों में जल सप्लाई स्कीमों के बिजली बिलों की अदायगी न होने पर इनके बिजली सप्लाई कनैक्शन काटने के मामले पर भड़के लोगों के गुस्से को देखते हुए उच्चाधिकारियों प्रमुख सचिव बिजली और सचिव जल सप्लाई व सैनीटेशन के दखल के बाद अब यह काटे कनैक्शन कल से बहाल करने का रास्ता साफ हो गया है। अनुमान के मुताबिक 600 गांवों में ये कनैक्शन बहाल किए जाएंगे।

जानकारी के मुताबिक सचिव जल सप्लाई और सैनीटेशन ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए एक पत्र लिख कर यह मामला प्रमुख सचिव बिजली के ध्यान में लाया था और यह कहा था कि वह अपनी ताकत को इस्तेमाल करते हुए पावरकाम को बिजली सप्लाई कनैक्शन बहाल करने के आदेश जारी करें। इस पत्र पर कार्रवाई करते हुए प्रमुख सचिव ने पावरकाम के सी.एम.डी. को हिदायतें जारी कर दीं जिन्होंने डायरैक्टर वितरण को आदेश दे दिए हैं।

डायरैक्टर के.एल. शर्मा ने इस बात की पुष्टि की है कि काटे गए सभी कनैक्शन बहाल किए जाएंगे। मुख्य इंजीनियर वितरण भूपिंद्र शर्मा ने कहा कि यह कनैक्शन बहाल करने का काम कल से शुरू हो जाएगा। सूत्रों के मुताबिक तकरीबन 800 गांवों में इन जल सप्लाई स्कीमों के कनैक्शन काटे गए थे जिनमें से बिलों का भुगतान होने के बाद 200 के करीब कनैक्शन बहाल हो गए थे। अब प्रमुख सचिव बिजली और सचिव जल सप्लाई के दखल के बाद में 600 के करीब कनैक्शन बहाल होने जा रहे हैं।

प्रमुख सचिव बिजली को लिखे पत्र में सचिव जल सप्लाई और सैनीटेशन ने लिखा है कि जल सप्लाई स्कीमों के बिजली बिलों के बकाया में से 143 करोड़ रुपए अदा किए जा चुके हैं जबकि बाकी रहते 315 करोड़ रुपए अदा करने के लिए निचले स्तर तक हिदायतें जारी की जा चुकी हैं। सचिव ने लिखा है कि पीने वाला पानी हरेक की प्राथमिक जरूरत है और इसे पहल के आधार पर मुहैया करवाना अत्यंत जरूरी है, इसलिए वह पावरकाम के अधिकारियों को हिदायत दें कि यह कनैक्शन बहाल किए जाएं।

6 मार्च को लिखे इस पत्र पर प्रमुख सचिव बिजली ने तुरंत कार्रवाई की है। अब यह पत्र सी.एम.डी. पावरकाम इंजी. के.डी. चौधरी की हिदायतों के बाद डायरैक्टर वितरण के.एल. शर्मा के दफ्तर पहुंच गया था और उनके द्वारा निचले स्तर तक हिदायतें जारी की जा रही हैं। बुधवार से यह सप्लाई बहाल करने के लिए फील्ड में कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

Share With:
Rate This Article