काबुलः फर्जी डॉक्टर बनकर आतंकियों ने अस्पताल पर किया हमला, 30 की मौत

काबुल

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल स्थित देश के सबसे बड़े सैन्य अस्पताल में डॉक्टर के वेश में आए आतंकियों ने बुधवार को हमला किया. इसमें कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई और 60 अन्य घायल हो गए. मृतकों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि अस्पताल में आतंकियों की सुरक्षा बलों के साथ कई घंटे मुठभेड़ चली.

यह हमला ऐसे समय हुआ है, जिससे एक दिन पहले ही पड़ोसी देश भारत में आईएस के एक बड़े आतंकी नेटवर्क का भंडाफोड़ हुआ और लखनऊ में सैफुल्ला नामक एक आतंकी मारा गया.

सुरक्षा अधिकारियों ने बताया कि 400 बिस्तरों वाले सरदार मोहम्मद दाऊद खान अस्पताल में आतंकी हमला उस समय शुरू हुआ, जब स्वचालित हथियारों और हथगोलों से लैस तीन आतंकी अस्पताल की इमारत में घुसे. सभी हमलावर चिकित्सकों की पोशाक में थे. उन्होंने इमारत के ऊपरी तल पर पोजीशन ली और वहां भेजे गए सुरक्षा बलों को रोकने की कोशिश की.

kabul 1

हमले की सूचना मिलते ही सुरक्षा बलों ने अस्पताल के आसपास के इलाके को घेर लिया. फिर विशेष बल के जवानों को हेलीकॉप्टरों के जरिये अस्पताल की मुख्य इमारत की छत पर उतारा गया. आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान इमारत में कम से कम से दो धमाकों की आवाज सुनाई दी.

रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, आतंकियों से सुरक्षा बलों की जबरदस्त मुठभेड़ हुई. उन्होंने कहा कि हमले में 30 से अधिक लोग मारे गए हैं, जबकि 50 से अधिक लोग घायल हुए हैं. सुरक्षा बलों ने अस्पताल पर नियंत्रण कायम कर लिया है. आतंकियों से मुठभेड़ खत्म हो चुकी है. रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि एक हमलावर ने खुद को विस्फोट से उड़ा दिया जबकि एक अन्य हमलावर को सुरक्षाकर्मियों ने ढेर कर दिया. इस संघर्ष में एक सुरक्षाकर्मी की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हो गए.

Share With:
Rate This Article