बायोमेट्रिक अटेंडेंस को लेकर बाबा फरीद यूनिवर्सिटी में हंगामा

फरीदकोट

बाबा फरीद यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ एंड साइंसेज के अधीन चल रहे गुरु गोबिंद सिंह अस्पताल में उस वक्त हंगामा हो गया जब निजी कंपनी के अधीन कार्य कर रहे कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर यूनिवर्सिटी के डीएमएस का घेराव कर लिया और जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान बॉयोमेट्रिक मशीन से हाजिरी लगाने और कर्मचारियों को दिमागी तौर पर परेशान करने के आरोप लगाए गए।

हालात को बिगड़ते देख भारी संख्या में पुलिस प्रशासन पहुंचा और एसपी साहिब ने भी मामला सुलझाने की कोशिश की परन्तु प्रदर्शनकारी टस से मस नहीं हुए और लगातार ही अपनी मुख्य मांग,डीएमएस को बर्खास्त करने पर अड़े रहे।

इस मौके पर प्रदर्शनकारी कर्मी अर्शदीप कौर ने कहा कि वह करीब 3 साल से वार्ड अटेंडेंट की जॉब पर कार्यरत है और उसे बहुत जी ज्यादा परेशान किया गया है| उन्होंने कहा कि उन्हें हाजिरी लगाने के लिए बहुत परेशान होना पड़ता है और उन्हें पैंट शर्ट पहनने को मजबूर किया जाता है और वह चाहते हैं कि डीएमएस को सस्पेंड किया जाए।

इस मौके पर पहुंचे फरीदकोट के एसपी (डी) जसविंदर सिंह ने कहा कि यह इनका विभागीय मामला है और इस मामले को लेकर उच्च अधिकारियों के साथ प्रदर्शनकारियों की बात करवा रहे हैं और अगर हल नहीं होता तो बनती कार्रवाई की जाएगी।

इस सारे मामले को लेकर जब बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के मेडिकल सुपरिंटेंडेंट के साथ बात की गई तो उन्होंने कहा कि इनकी मुख्य मांग डीएमएस को हटाने की थी, जिस बारे में रजिस्ट्रार साहिब ने ऑर्डर कर दिए हैं और यह आउट सोर्सिज के नोडल अफसर भी थे। उन्होंने कहा कि इस मामले में एक कमेटी भी बनाई जा रही रही है और उनकी मुख्य मांगे जानकर हल कर लिया जाएगा।

Share With:
Rate This Article